Gadgets

जिन यूजर के फोन में स्टीकर का अपडेट आ गया है, वे वाट्सएप चैटिंग में जाएं। उसके बाद टेक्स्ट बॉक्स में बाईं ओर दिए गए इमोजी के आइकन पर क्लिक करें। अब स्क्रीन में नीचे की तरफ तीन विकल्प मिलेंगे, जिसमें एक इमोजी, दूसरा जीआइएफ और तीसरा स्टीकर का विकल्प है।

अगर आप अपने फेसबुक नोटिफिकेशन को बंद करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको पहले अपना अकाउंट लॉग इन करना होगा, जहां आपको अपना यूजर नेम और पासवर्ड डालना होगा।

मार्च में होने वाली बैठक का मकसद ब्याज दरों के अलावा अर्थव्यवस्था को गति देना भी है। इस पर विस्तृत चर्चा करने के लिए गवर्नर ने व्यापार संगठनों के साथ रेटिंग एजेंसियों को भी बातचीत में शामिल किया है।

वाट्सएप ऐसा दावा किया जा रहा है कि इन दो फीचर्स के जुड़ने के बाद से यूजर किसी भी वेब पेज को वॉट्सऐप के अंदर ही ओपन कर सकेंगे और उन्हें ऐप से बाहर नहीं जाना पड़ेगा। इतना ही नहीं यूजर्स को नुकसान पहुंचाने वाले वेब पेज के बारे में भी अलर्ट भी मिलता रहेगा।

अभी तक तो सिर्फ धरती पर चलने वाली कार आपने देखी होगी, लेकिन अब चांद पर जाने वाली कार भी आपको जल्द नजर आएगी। जापान की कार निर्माता कंपनी Toyota अब चांद पर कदम रखने की तैयारी की है।

फेसबुक के इस सिक्युरिटी फीचर में ढेर सारी खामियां हैं, जिसमें सबसे अहम है कि यह सब एक बाहर की कंपनी के प्लेटफॉर्म पर होता है। एक अमेरिकी स्टडी के मुताबिक जब यूजर अपने मोबाइल नंबर को फेसबुक पर रजिस्टर करता है तो वह अपने नंबर को मार्केटिंग से जुड़ी चीजों के लिए भी इस्तेमाल करने की इजाजत दे देता है।

जयपुर: आजकल की जिंदगी में लैपटॉप भी इंसान का साथी बन गया हैं और हर समय उसके साथ रहता हैं। क्योंकि व्यक्ति अपने कई काम लैपटॉप पर ही करता हैं और उसे हमेशा अपने साथ ही रखता हैं। ऐसे में व्यक्ति के लिए लैपटॉप का महत्व बहुत है और इसके खराब होने से व्यक्ति का …

रजिस्ट्रेशन पेज पर फोन के दो वेरिएंट लिस्ट किए गए हैं- ग्रेडिएंट ब्लू फिनिश और पावर गोल्ड। लीक हुए वीवो एक्स27 के प्रमोशनल पोस्टर्स में भी इन्हीं दो कलर वेरिएंट को दिखाया गय

अगर आपको नकली नोटों से डर लगता है तो डरने की जरूरत नहीं है। अब आप एक एप के जरिए नकली नोटों की पहचान कर सकते हैं। आईआईटी खड़गपुर में रिसर्च कर रहे छात्रों ने स्मार्टफोन पर काम करने वाला एक ऐसा ही ऐप तैयार किया है।

एंजल टैक्स की शुरुआत 2012 में हुई थी। उस समय तत्कालीन यूपीए सरकार के वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ने आयकर कानून की धारा 56 (2) (7) के तहत बजट में इसका एलान किया था। इसका मकसद मनी लाउड्रिंग पर रोक लगाना था। लेकिन अब पूरे स्टार्टअप्स सेक्टर पर इसकी मार पड़ रही है।