अगर आपका बच्चा भी भागता है स्कूल के नाम से तो जरूर करें उसके साथ ये काम!

जयपुर:  बच्चे के सही  विकास के लिए उसे पढ़ाना भी बहुत जरूरी हैं और यह  उसका अधिकार भी हैं। इसके लिए माता-पिता अपने बच्चों को अच्छे से अच्छे स्कूल में भेजना पसंद करते हैं। लेकिन कुछ समय बाद ही बच्चे स्कूल जाने में आनाकानी करने लगते है जिसका उनके विकास पर बुरा असर पड़ता हैं। ऐसे में माता-पिता को चाहिए कि अपने बच्चों को प्यार से समझाए और उन्हें स्कूल जाने के लिए प्रेरित करें। जानते है इन टिप्स के बारे में।

पढ़ाई से फ्री होकर बच्चा अक्सर खेलने की डिमांड करता है। ऐसे में बच्चों को बिल्कुल न रोके, बल्कि खेलने का भी समय दें। वहीं उसे हमेशा स्कूल के काम के लिए खेलने-कूदने से मना न करें ।

अधिकतर बच्चे इस बात के लिए भी स्कूल जाने से बहाने-बाजी करने लगते है कि उन्हें कुछ सब्जेक्ट अच्छे नहीं लगते और उन्हें टीचर्स से डर लगता है। ऐसे में अपने बच्चे की उस सब्जेक्ट को पढ़ने में मदद करें। इससे बच्चे का डर दूर होगा और वो खुशी से स्कूल जाएगा।

कुछ लोग बच्चे को स्कूल के नाम से इस कदर डरा देता है कि बच्चा स्कूल जाने से कतराने लगता है। अगर आप चाहते है कि बच्चा खुशी-खुशी स्कूल जाए तो बच्चे को स्कूल के बारे में अच्छी बातें बताए। बच्चे को बताए कि स्कूल में आपके साथ खेलने के लिए काफी दोस्त बनेंगे। टीचर्स नई-नई कहानियां भी सुनाएंगे।

बायोलॉजी अध्यापक भर्ती मामले में प्रमुख सचिव व बोर्ड सचिव से व्यक्तिगत हलफनामा तलब

पेरेंट्स छोटे बच्चे पर ही अपनी ख्वाहिशें थोपने लगते है और उसे कहने लगते है कि तुझे पढ़ लिख कर डॉक्टर या बड़ा अफसर बनना है और बच्चे पर पढ़ाई का दवाब बनाने लगते है। अगर आप भी ऐसा करते है तो अपनी इस आदत को सुधार लें क्योंकि इससे बच्चा इर्रिटेट और बोझिल महसूस करता है और स्कूल न जाने के बहाने बनाने लगता है।

बच्चे अक्सर लंच बॉक्स में खाने के लिए नए-नए पकवान की डिमांड करते है। अगर आपका बच्चा स्कूल जाते समय रोता है तो उसे नई डिश बनाकर खिलाने का लालच दें इससे बच्चा खुशी-खुशी स्कूल जाएगा।