2019 lok sabha elctions

2019 लोकसभा चुनाव की तारीखों का एलान हो चुका है। लोकसभा चुनाव से ठीक पहले होली का त्योहार राजनैतिक पार्टियों में रंग भरने का काम कर रहा है। इस होली को चुनावी होली के रूप में देखा जा रहा है। जब से उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार आई है, भगवा रंग का क्रेज बढ़ गया है।

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आज उत्तर प्रदेश के नेताओं की बैठक बुलाई है। सीएम योगी, प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय, संगठन महामंत्री सुनील बंसल, डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा और केशव मौर्या, सूर्य प्रताप शाही शामिल होंगे।

लोकसभा चुनावों के लिए कांग्रेस ने अपने उम्मीदवारों की तीसरी लिस्ट जारी कर दी है। इस लिस्ट में कांग्रेस ने 18 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की है। कांग्रेस ने असम से पांच, मेघालय से दो, नगालैंड और सिक्किम से एक-एक, तेलंगाना से आठ और यूपी की एक सीट पर प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर दी है।

मैसूर के महाराजा नालवाड़ी कृष्णराज वाडियर ने 1937 में एक कंपनी मैसूर लैक एंड पेंट्स लिमिटेड बनाई थी। जो अब मैसूर पेंट्स एंड वॉर्निश लिमिटेड के नाम से जानी जाती है। यहां की बनी स्याही सिंगापुर, थाइलैंड, नाइजीरिया, मलेशिया, पाकिस्तान, कनाडा, द. अफ्रीका सहित कई देशों को भेजी जाती है।

राजभर ने अपने चिरपरिचित अंदाज में मिलते हुए कहा, 'भारतीय जनता पार्टी का राष्ट्रवाद चुनावी दांव है। इसी तरह सपा—बसपा का गठबन्धन चुनावी दांव है और कांग्रेस भी प्रियंका गांधी वाड्रा को राजनीति में लाकर चुनावी दांव लगा रही है। यह चुनाव दांव का खेल है। किसका दांव सटीक बैठता है, इसका पता आगामी 23 मई को चल जायेगा।

निर्वाचन आयोग ने पूरे प्रदेश में आदर्श आचार संहिता के अनुपालन में प्रचार सामग्रियों को अभियान चलाकर सार्वजनिक एवं निजी स्थानों से हटाया दिया। इसके साथ ही संतकबीर नगर में दो मुकदमें भी दर्ज किये गये हैं।  

रोड शो मे दो पहिया वाहन और चार पहिया वाहन की संख्या बताना जरूरी होगा। दो पहिया वाहनों को दस-दस के ग्रूप मे आगे भेजा जाएगा। साथ ही दो पहिया वाहनों मे दो सौ मीटर का फासला होना जरूरी होगा।

जब नोटा की व्यवस्था हमारे देश में नहीं थी, तब चुनाव में अगर किसी को लगता था कि उनके अनुसार कोई भी उम्मीदवार योग्य नहीं है, तो वह वोट नहीं करता था और इस तरह से उनका वोट जाया हो जाता था। ऐसे में मतदान के अधिकार से लोग वंचित हो जाते थे।

लोकसभा चुनाव की तारीखों के आने के बाद से विवाद भी खड़े होने लगे हैं। कोलकता के मेयर और टीएमसी नेता फिरहाद हकीम ने कहा, चुनाव आयोग एक संवैधानिक संस्था है और हम उसका सम्मान करते हैं। हम उनके खिलाफ कुछ नहीं बोलना चाहते हैं। लेकिन 7 चरणों में चुनाव बिहार, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल के लोगों के लिए मुश्किल होगा।

लोकसभा चुनाव को लेकर डीजीपी ने कहा कि पिछले विधानसभा और लोक सभा चुनाव में जो गलतियां हुई है। इसे गंभीरता से लेकर जिला व पुलिस प्रशासन के अधिकारियों ने रणनीति बना ली गयी है।