china

पाकिस्तानी आतंकी मसूद अजहर को चीन ने एक बार फिर वैश्विक आतंकी घोषित होने में अड़ंगा लगा दिया। इसके बाद देश की सियासत गरमा गई है। कांग्रेस और बीजेपी में वार शुरू हो गया है। अब वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस पर हमला बोला है।

पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड और आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का सरगना मसूद अज़हर को लेकर एक बार फिर चीन ने अपना दोगला चेहरा दिखाया है।चीन ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में मसूद को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने संबंधी प्रस्ताव पर बुधवार को तकनीकी रोक लगा दी।

आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) के वैश्विक आतंकवादी घोषित करने की राह में पाकिस्तान के सदाबहार दोस्त चीन ने एक बार फिर रोड़ा लगा दिया है।

बीजेपी ने राहुल गांधी पर तीखा पलटवार किया है। बीजेपी ने ट्वीट कर कहा है कि आज चीन UNSC का हिस्सा ही नहीं होता अगर आपके ग्रेट ग्रैंडफादर चीन को उसे ये सीट तोहफे में ना देते।

मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने के प्रस्ताव पर चीन की ओर से संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में वीटो किए जाने के बाद मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने मोदी सरकार पर निशाना साधा।

प्राधिकरण ने सोमवार को बयान जारी कर कहा कि सुरक्षा पर मंडराते खतरे पर जीरो टॉलिरेंस रखते हुए सभी घरेलू बोइंग 737 मैक्स 8 शाम छह बजे (स्थानीय समय) तक सेवा में नहीं रहेंगे। विमान से संबंधित सभी पहलुओं की पुष्टि होने के बाद ही बोईंग 737 मैक्स 8 का व्यावसायिक इस्तेमाल फिर से शुरू होगा। हम आपको बता दें कि इथोपिया विमान हादसे में सवार चार भारतीय नागरिक, पर्यटकों और कारोबारियों सहित सभी 157 लोगों की मौत हो थी ।

पाकिस्तान द्वारा फाइटर प्लेन एफ-16 के प्रयोग और भारत के पायलट को अपने कब्जे में लेने की वजह से पाकिस्तान के प्रति भारत के गुस्से को देखते हुए, अमेरिका ने पाकिस्तान को चेता दिया कि कब्जे में रखे भारत के पायलट को कोई नुकसान नही होना चाहिए। नहीं तो भारत को रोकना नामुमकिन होगा और चेताया कि युद्ध की स्थिति में एफ-16 के इंजन को लॉक कर देगा।

चीन अपने रक्षा बजट में लगातार बढ़ोत्तरी करता जा रहा है। चीन ने साल 2019 के लिए अपने रक्षा बजट में 7.5 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी की है।चीन के नेशनल पीपल्स कांग्रेस (एनपीसी) के सालाना सत्र की मंगलवार को शुरुआत हुई जिसमें पेश ड्राफ्ट बजट रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई।

देश में जिन कंपनियों ने सौर परियोजनाओं के टेंडर हासिल कर लिए थे, उन्होंने अपना काम धीमा कर दिया, बल्कि कंपनियों ने नए टेंडर लेने से मना ही कर दिया। यही वजह है कि लक्ष्य को हासिल कर पाना ज्यादा मुश्किल नजर आ रहा है।

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले पर भारत को अंतरराष्ट्रीय मंचों से भरपूर समर्थन मिल रहा है। अब भारत को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) का भी साथ मिला है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने पुलवामा हमले को जघन्य और कायराना कृत्य करार दिया है। साथ ही उसने इस हमले की कड़ी निंदा की है।