holaashtak

जयपुर:गुरुवार, फाल्गुन शुक्लपक्ष अष्टमी 14 मार्च से फाल्गुन शुक्ल पूर्णिमा 21 मार्च तक होलाष्टक रहेगा। इस अवधि में भोग से दूर रह कर तप करना ही अच्छा माना जाता है। इसे भक्त प्रह्लाद का प्रतीक माना जाता है। सत्ययुग में हिरण्यकशिपु ने घोर तपस्या करके ब्रह्मा जी से वरदान पा लिया। वह पहले विष्णु का …

लखनऊ: होली में अब कुछ दिन ही शेष रह गया है और इसी के साथ होलाष्टक प्रारंभ हो गया है। पौराणिक मान्यता के अनुसार होलाष्टक मतलब होली खेलने तक कुछ कामों को नहीं करना चाहिए। इन्हें करने से मनुष्य को नुकसान का सामना करना पड़ता है। पर्व से पहले 8 दिनों के लिए सभी तरह …