samajwadi party

प्रदेश सरकार का दो वर्ष का कार्यकाल पूरा होने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सोमवार को कहा कि यह दो वर्ष प्रदेश की जनता के लिए अभिशाप साबित हुए हैं। चारों तरफ घोर निराशा और हताशा है। हर मोर्चे पर राज्य सरकार की नाकामी ही भाजपा की उपलब्धि मानी जा सकती है।

देश का ऐसा कोई मंच नहीं होगा जहां से दलितों और अल्पसंख्यकों की बात ना होती हो ऐसे में उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा गठबंधन से भारतीय जनता पार्टी को दलित वोट बैंक फिसलता नजर आ रहा है। ऐसे में भाजपा नेताओं ने अब खासा फोकस दलित वोटों पर करना शुरू कर दिया है।

कांग्रेस और जन अधिकार पार्टी के बीच आज हुए गठबंधन को लेकर अभी से तरह-तरह के सवाल उठने शुरू हो गए हैं। कोई खास जनाधार वाली पार्टी न होेने के बावजूद जन अधिकार पार्टी के साथ किए गए 7 सीटों के गठबंधन की बात को पार्टी कार्यकर्ता पचा नहीं पा रहे हैं।

मतदाता सूची पर नजर डालें तो पूर्वोत्तर और दक्षिण भारत के नौ सूबों में पुरुषों की तुलना में महिला वोटर्स कहीं अधिक हैं। चुनाव आयोग के आकड़ों पर नजर डालने पर हमें समझ आता है कि लैंगिक अनुपात के मामले में तमिलनाडु, केरल, आंध्र प्रदेश, पुडुचेरी, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, मेघालय और मिजोरम सबसे आगे हैं।

मैनपुरी के वर्तमान सांसद तेज प्रताप यादव का कहना है कि वे पार्टी नेतृत्व के फैसले का स्वागत करते हैं। वे जी जान से पार्टी के लिए मेहनत करके नेताजी को भारी मतों से मैनपुरी से जिताकर लोकसभा पहुचाएंगे लेकिन 2019 का लोकसभा चुनाव लड़ूंगा और जल्द ही सीट का भी ऐलान होगा।

समाजवादी पार्टी ने एक और प्रत्याशी की घोषणा की है। इलाहाबाद से बीजेपी सांसद श्यामा चरण गुप्ता को समाजवादी पार्टी ने बांदा से अपना उम्मीदवार बनाया।

समाजवादी पार्टी ने लोकसभा चुनाव के लिए मंगलवार को प्रत्याशियों की एक और सूची जारी कर दी है। इस लिस्ट में 4 प्रत्याशियों का नाम हैं। इससे पहले सपा ने प्रत्याशियों की सूची जारी की थी।

प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खां, पत्नी व बेटे की गिरफ्तारी पर रोक की मांग को लेकर दाखिल याचिका की सुनवाई टल गयी है। न्यायमूर्ति नाहिद आरा मुनीश तथा न्यायमूर्ति वी.के.श्रीवास्तव की खण्डपीठ के एक न्यायमूर्ति ने स्वयं को सुनवाई से अलग कर लिया और मुख्य न्यायाधीश को नयी पीठ गठित करने के लिए अनुरोध किया है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भीम आर्मी सुप्रीमो चंद्रशेखर आजाद से क्या मिलीं बसपा अध्यक्ष मायावती का पारा चढ़ गया। सूत्रों के मुताबिक, मायावती इस समय काफी नाराज हैं। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को अपने घर बुलाया और रायबरेली-अमेठी में भी गठबंधन के उम्मीदवार को उतारने की बात कही।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा के पीछे ऐसी ताकतें हैं जो षड़यंत्रकारी हैं। उनके इरादे नेक नहीं है। भाजपा जातिवाद के आधार पर नफरत पैदा करती है।