अगर करेंगे मां दुर्गा के इस रूप और मंत्र की उपासना तो मिल सकता है वाहन सुख!

car

लखनऊ: नवरात्रि के नौ दिनों तक शक्ति की पूजा की जाती है। इससे प्रकृति में असीम ऊर्जा का प्रवाह होता है। इन दिनों में कोई भी शुभ कार्य करना हो तो किसी पंडित जी से मुहूर्त पूछने की जरूर नहीं पड़ती है। नवरात्रि में लगभग सभी लोग मां भगवती का पूजन करके मनोकामना पूरी होने की अर्जी मां से लगाते हैं।

आगे की स्लाइड्स में पढ़ें कैसे करेंगे पूजा तो मां देगी वाहन…..

car

 मां के साथ सिंह का पूजन
यदि आप चाहते हैं कि नवरात्रि में वाहन की प्राप्ति हो तो उसके लिए आपको ये उपाय करने होगा।  मां भगवती सिंह की सवारी करती है, इसलिए मां दुर्गा की पूजा करने के साथ ही सिंह का भी पूजा-अर्चना करें। मनोकामना सि़द्ध के लिए पूरे नौ दिन तक नित्य एक नारियल जल में प्रवाहित करें। पूजन स्थान में दक्षिणावर्ती शंख में जल रखकर नित्य पूजन करें।

मां स्कंदमाता की पूजा से वाहन की होगी प्राप्ति
नौ देवियों में स्कंदमाता की विशेष आराधना करनी चाहिए, जिससे वाहन की प्राप्ति होती है, क्योंकि देवी की चार भुजाएं है। इनकी गोद में स्कंद है, नीचे वाली भुजा में कमल पुष्प है, बायीं तरफ ऊपर वाली भुजा वरमुद्रा में है। इनकी उपासना से हर मनोकामना पूरी होती है।

सिंहासनगता नित्यं पद्याश्रितकरद्वया।
शुभदास्तु सदा देवी स्कंदमाता यशस्विनी।।

मंत्र की कम 2 माला रोज करने से मनोकामना पूर्ण होगी। नौवें दिन मां सिद्धिदात्री की आराधना करने से लौकिक इच्छाओं की पूर्ति होती है। 9 दिनों तक 9 साल से कम आयु की 9 कन्याओं को मीठा भोजन कराने से वाहन की प्राप्ति हेाती है।

आगे की स्लाइड्स में पढ़ें इन दो मंत्रों के बारे में जो भर देगी झोली…..

durga3

जिस प्रकार के वाहन प्राप्ति की इच्छा हो, उसकी आकृति भोजपत्र पर अनार की कलम और लाल चंदन और केसर की स्याही से बना लें। उसके पश्चात उस भोजपत्र को मां दुर्गा के सामने रख दें। ऐसा करने से मनोकामना पूर्ण होगी।

ऊं दुं दुर्गायै नमः का जाप करने से मनोकामना पूर्ण होती है। ह्रीं दुं दुर्गायै नमः का नित्य 9 दिन तक दो माला जाप करने से मन वांछित फल की प्राप्ति होती है।