करवा चौथ व्रत स्पेशल: क्या आप भी हैं ऑफिस गोइंग वुमेन, तो इन बातों पर दें ध्यान

Published by October 4, 2017 | 1:45 pm
करवा चौथ व्रत स्पेशल: क्या आप भी हैं ऑफिस गोइंग वुमेन, तो इन बातों पर दें ध्यान

सहारनपुर: करवा चौथ का व्रत एक ऐसा व्रत है, जिसे सभी तरह की महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र की कामना के लिए रखती हैं। इसमें वह महिलाएं भी शामिल हैं, जो घर से बाहर जाकर नौकरी, कारोबार अथवा अन्य काम करती है।

इस व्रत में कामकाजी महिलाओं के लिए यह समस्या पैदा हो जाती हैं कि वह इस व्रत की तैयारी कैसे करें क्योंकि सरकारी और प्राइवेट सेक्टर में इस व्रत पर महिलाओं के लिए अवकाश का कोई प्रावधान नहीं है। यह बात अलग है कि जहां महिलाएं काम कर रही हैं, वहां पर प्रबंध तंत्र की ओर से इस पर्व को मनाने के लिए अवकाश प्रदान कर दिया जाता हो।

यह भी पढ़ें: करवा चौथ के दिन ना करें ये काम, भुगतना पड़ सकता है अंजाम

श्री बालाजी धाम सहारनपुर के संस्थापक गुरु श्री अतुल जोशी जी महाराज के अनुसार हमारे सामने कई महिलाओं ने इस प्रकार के प्रश्न रखें कि कामकाजी महिलाएं अपने इस व्रत को कैसे करें और क्या करें क्या न करें? तो हम आज आपको बताने जा रहे हैं कि यदि आप कामकाजी महिलाएं हैं, तो इस व्रत को कैसे करें और कैसे इसकी तैयारी करें? पारिवारिक गृहणी की भांति ही आप सुबह उठकर ईश्वर का ध्यान करें और अपने पति की लंबी उम्र की कामना करते हुए भगवान श्रीगणेश से प्रार्थना करें कि गणपति मैं एक कामदार महिला हूं। मुझे शक्ति प्रदान करें कि दूसरी महिलाओं की तरह ही मैं भी अपने पति की लंबी आयु की कामना के लिए व्रत करूं। इस दौरान मुझे यह भी शक्ति प्रदान करो कि व्रत में कोई विघ्न पैदा न हो क्योंकि गणेश जी विघ्नहर्ता है।

यह भी पढ़ें: करवा चौथ पर इस बार पति नहीं, पत्नियां देंगी उनको उपहार, जानिए इसके पीछे का राज

इसके अलावा सबसे पहली और जरुरी बात त्योहार को लेकर आपको जो भी खरीददारी करनी है उसे त्यौहार के कम से कम 2 दिन पहले निपटा लें और अंतिम दिन के लिए कुछ भी बचाकर न रखें। जो भी आपको अपनी सास को देना है या पूजा की सामग्री आदि सब कुछ पहले से जुटा कर रखें। अगर यह काम सप्ताहांत पर करें तो और भी बेहतर रहेगा। मेंहदी भी लगभग दो दिन पहले ही लगवा लें। 2 दिन बाद मेंहदी का रंग और भी गहरा हो जाएगा जो कि उपवास वाले दिन सुंदर लगेगा।

यह भी पढ़ें: 5 अक्टूबर की रात होगी अमृत वर्षा, इन उपायों से आप भी उठाएं उसका लाभ

अपनी सरगी को रात्रि भोजन के साथ ही बना कर रख दें ताकि प्रात:काल उसे सिर्फ गर्म करके उसका सेवन किया जा सके। इससे आपका समय तो बचेगा ही साथ आपकी ऊर्जा भी बचेगी जो कि पूरे दिन आपके काम आएगी। अपने पति को भी प्रात:काल उठाकर उनसे नारियल तुड़वाकर उसका पानी पी लें। सरगी खाने के बाद एक पेन किलर भी ले लें तो दिन में भूख के मारे होने वाले सिरदर्द से राहत मिल सकती है।

सरगी के भोजन में अत्यधिक मिठाई व तला हुआ भोजन जैसे कि मट्ठी आदि न खाएं। इससे बहुत जल्दी प्यास लगती है और पानी आप दिनभर पी नहीं सकती इसलिए इन्हें खाने से बचें। जितना हो सके फलों का सेवन करें जो कि आपको हाईड्रेटेड रखने में मददगार होंगें। यदि आपने काम से छुट्टी ली है तो अपने दोस्तों के साथ, जीवनसाथी के साथ फिल्मादि देखने का कार्यक्रम बनाएं, जिससे आप एक आनंदपूर्वक अपने समय को व्यतीत कर सकें।