Astro

बुलंदशहर:  शहर से 25 किमी दूर खुर्जा में श्रीनवदुर्गा शक्ति मंदिर लाखों श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र है। इस मंदिर को खुर्जा वाली मैया के मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। श्रीनवदुर्गा शक्ति मंदिर में अष्टधातु की 4.5 टन वजन की 27 खंडों में बनी शक्ति की मूर्ति है, जिसमें मां के नौ …

झारखंड: रघुनंद का नाम आते ही आंखों के सामने उनकी जन्म स्थली आयोध्या घूमने लगती है। ये तो सभी जानते है कि श्री राम जी का संबंध अयोध्या से है। वहां उनके होने का साक्ष्य भी है, लेकिन शायद बहुत कम लोगों को पता होगा कि उनका संबंध झारखंड से भी है। यहां के लोगों  …

लखनऊ: बुधवार के दिन को आम दिन में धार्मिक शास्त्रों  में महत्वपूर्ण माना गया है। इस बुधवार को नवरात्रि के सप्तमी तिथि होने से और भी महत्वपूर्ण हो गया है। पं. सागरजी महाराज के अनुसार जानते है कैसा रहेगा बुधवार का राशिफल। मेष: पुराने परिचितों से मिलने-जुलने और पुराने रिश्तों को फिर से तरोताजा करने …

लखनऊ:  दुर्गा जी का सातवां स्वरूप कालरात्रि है। इनका रंग काला होने के कारण ही इन्हें कालरात्रि कहते हैं। असुरों के राजा रक्तबीज का वध करने के लिए देवी दुर्गा ने अपने तेज से इन्हें उत्पन्न किया था। इनके शरीर का रंग घने अंधकार की तरह एकदम काला है, सिर के बाल बिखरे हुए हैं …

सहारनपुर: देवी दुर्गा के सभी रूपों की पूर्जा अर्चना की जाती है। देश के अलग-अलग भागों में उनके अलग-अलग स्वरुपों का पूजन होता है। सहारनपुर जनपद मुख्यालय से 46 किलोमीटर दूर स्थित देवबंद नगर। यहां  देवी मां के बाला सुंदरी रूप की पूजा की जाती है। कहा जाता है कि मां गौरी (सती) का यहां …

रांची: नवरात्रि के आते ही देश भर के मंदिरों में देवी के भक्तों की भीड़ बढ़ जाती है। लोग दूर-दूर स्थित मां के मंदिरों में दर्शन के जिए जाते हैं। देवी दुर्गा के तमाम रूपों में से एक और रूप है, जिसे छिन्नमस्तिके के नाम से जाना जाता है। छिन्नमस्तिके देवी के नाम से मशहूर …

लखनऊ: चैत्र शुक्ल पक्ष की प्रत्येक तिथि का धर्मशास्त्रों में  विशेष महत्व है। इसकी प्रतिपदा से चैत नवरात्रि शुरू होती है। इस दौरान  नवरात्रि के साथ रामनवमी होने से महत्व दोगुना हो जाता है। कहा गया है कि त्रेता युग में इसी दिन मर्यादा पुरुषोत्म राम का जन्म हुआ था। रघुकुल शिरोमणि महाराज दशरथ और …

लखनऊ: पं. सागरजी महाराज के अनुसार जानें कैसा रहेगा मगंलवार का दिन। मेष: आज के दिन कार्यक्षेत्र में चीजे बेहतरी की ओर बढ़ सकेंगी, अगर आप आगे बढ़कर उन लोगों से भी दुआ-सलाम करें जो आपको ज्यादा पसंद नहीं करते। वह काम जो आज आप दूसरों के लिए स्वेच्छा से करेंगे, न सिर्फ औरों के …

कानपुर: कानपुर शहर से करीब साठ किलोमीटर दूर घाटमपुर में मां कुष्मांडा देवी का अद्भुत मंदिर है । जहां माता रानी मंदिर में एक पिंड के रूप में लेटी हुई मुद्रा में है। देवी के चौथे अवतार मां कुष्मांडा के पिंड से पानी रिसता रहता है। यहां जल रिसनेे का क्या रहस्य इसका अब तक कुछ पता …

लखनऊ: स्कंदमाता दुर्गा देवी का 5वां रूप है। कहते हैं कि मां के रूप की पूजा करने से मूढ़ भी ज्ञानी हो जाते हैं। स्कंद कुमार कार्तिकेय की मा होने के कारण इन्हें स्कंदमाता के नाम से जाना जाता  है। इनके विग्रह में भगवान स्कंद बालरूप में इनकी गोद में विराजित हैं।  देवी की चार …