Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

गुप्तेश्वर पांडेय पर JDU का बड़ा फैसला, इस सीट से भेज सकती है लोकसभा

गुप्तेश्वर पांडेय को नीतीश कुमार की अगुआई वाली जनता दल यूनाइटेड वाल्मीकि नगर सीट से लोकसभा उपचुनाव में अपना प्रत्याशी बना सकती है। गुप्तेश्वर पांडेय इस सीट से जदयू के टिकट पर उपचुनाव लड़ेंगे।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 23 Sep 2020 6:04 AM GMT

गुप्तेश्वर पांडेय पर JDU का बड़ा फैसला, इस सीट से भेज सकती है लोकसभा
X
गुप्तेश्वर पांडेय पर JDU का बड़ा फैसला, इस सीट से भेज सकती है लोकसभा
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पटना: बिहार में विधानसभा चुनावों को लेकर तैयारियां जोर पकडती जा रही हैं। बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय लोकसभा का उपचुनाव लड़ सकते हैं। उन्होंने विधानसभा चुनाव से ठीक पहले अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार गुप्तेश्वर पांडेय को नीतीश कुमार की अगुआई वाली जनता दल यूनाइटेड वाल्मीकि नगर सीट से लोकसभा उपचुनाव में अपना प्रत्याशी बना सकती है। गुप्तेश्वर पांडेय इस सीट से जदयू के टिकट पर उपचुनाव लड़ेंगे।

मंगलवार की देर रात गुप्तेश्वर पांडेय ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली

बता दें कि मंगलवार की देर रात बिहार पुलिस के डीजीपी रह चुके गुप्तेश्वर पांडेय ने अपने पद से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली थी। उन्होंने सरकार को वीआरएस के लिए आवेदन दिया था, जिसे सरकार ने स्वीकृत कर लिया था। दूसरी ओर उनके बिहार विधानसभा चुनाव में भी बक्सर के किसी विधानसभा सीट से खड़े होने की उम्मीद जताई जा रही है, लेकिन इस बीच वाल्मीकि नगर चुनाव में उनकी दावेदारी ने सियासी रुख मोड़ दिया है।

Former Bihar DGP Gupteshwar Pandey-2

ये भी देखें: भारत ने तुर्की को दी कड़ी चेतावनी: इस हरकत पर बताई औकात, दिया था ये बयान

गुप्तेश्वर पांडेय 1987 बैच के IPS अधिकारी थे

बताया जा रहा कि अगले कुछ दिनों में तस्वीर साफ हो जाएगी कि गुप्तेाश्वर पांडेय को नीतीश कुमार विधानसभा या फिर लोकसभा का टिकट देते हैं। बता दें कि VRS लेने वाले बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय 1987 बैच के IPS अधिकारी थे।

सुशांत सिंह मामले में पुलिस की जांच पर उठाये थे कई सवाल

फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में सुर्खियों में आए डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने अभिनेता की मौत पर मुंबई पुलिस की जांच पर कई सवाल उठाए थे। महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस द्वारा बिहार के पुलिस अधिकारी एवं जांच टीम के साथ जिस तरह का दुर्व्यवहार किया गया था, इससे डीजीपी काफी आहत थे। उन्होंने कई टीवी चैनलों पर इस प्रकरण की आलोचना की थी।

DGP Gupteshwar Pandey-sushant singh case

ये भी देखें: कोरोना का कहर: 24 घंटे में आए इतने मामले, अब तक 90020 लोगों की हुई मौत

डीजीपी का अतिरिक्त प्रभार एसके सिंघल को

गुप्तेश्वर पांडेय के स्वैच्छिक सेवानिवृत्त के बाद डीजीपी का अतिरिक्त प्रभार एसके सिंघल को दिया गया है। दरअसल, गुप्तेश्वर पांडेय का बतौर डीजीपी टर्म पूरा होने में अभी लगभग 5 महीने का समय बचा था, लेकिन इससे पहले ही उन्होंने वीआरएस ले लिया।

Newstrack

Newstrack

Next Story