Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

Hriday Yojana: मुख्यमंत्री नीतीश ने सात निश्चय-2 में शामिल ' बाल हृदय योजना' का किया शुभारंभ

Hriday Yojana: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग को विशेष तौर पर बाल हृदय योजना के शुभारंभ के लिये बधाई देता हूं।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautamBy Shashi kant gautam

Published on 2 April 2021 3:51 PM GMT

CM Nitish inaugurates Bal Hriday Yojana
X

CM Nitish inaugurates Bal Hriday Yojana:(Photo: Social Media)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Hriday Yojana

बिहार: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज सचिवालय स्थित संवाद के सामने आयोजित कार्यक्रम में सात निश्चय -2 के अंतर्गत सबके लिये अतिरिक्त स्वास्थ्य सुविधा के तहत ' बाल हृदय योजना का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने प्रशांति मेडिकल सर्विसेज एण्ड रिसर्च फाउंडेशन के अहमदाबाद स्थित अस्पताल में इलाज हेतु अभिभावकों के साथ विमान से भेजे जा रहे 21 हृदय रोग से ग्रस्त बच्चों को पटना हवाई अड्डा तक ले जा रही बसों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया ।

हृदय में छेद के साथ जन्मे बच्चों का निःशुल्क उपचार

शुभारंभ समारोह के पश्चात पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग को विशेष तौर पर बाल हृदय योजना के शुभारंभ के लिये बधाई देता हूं। पिछले वर्ष इसकी चर्चा हुई और चुनाव के पश्चात नई सरकार के गठन के बाद सात निश्चय -2 के अंतर्गत सबके लिये अतिरिक्त स्वास्थ्य सुविधा के तहत हृदय में छेद के साथ जन्मे बच्चों का निःशुल्क उपचार की व्यवस्था हेतु बाल हृदय योजना को कैबिनेट से मंजूरी दी गई । इन बच्चों के इलाज के लिये 1 अप्रैल 2021 से बाल हृदय योजना की शुरूआत की गई और आज उसका शुभारंभ किया गया ।

इंदिरा गांधी हृदय रोग संस्थान पटना एवं इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान पटना में जांच की व्यवस्था की गई और उसके बाद इलाज किया जायेगा । अहमदाबाद के जिस निजी अस्पताल में उन बच्चों का निःशुल्क इलाज कराया जाना है, वहां के डॉक्टर एवं स्वास्थ्यकर्मी ने आकर यहां उन बच्चों की जांच भी की । उस संस्थान के साथ उन बच्चों के निःशुल्क इलाज के लिये एग्रीमेंट किया गया । देश के कई राज्य उस अस्पताल के साथ एग्रीमेंट कर बाल हृदय रोगियों की निःशुल्क चिकित्सा कराते हैं ।

हृदय रोग से ग्रस्त बच्चों के इलाज की पूरी व्यवस्था-मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार अपनी तरफ से हृदय रोग से ग्रस्त बच्चों के इलाज की पूरी व्यवस्था करेगी । अहमदाबाद स्थित संस्था में बाल हृदय रोगियों का निःशुल्क इलाज किया जाता है । राज्य सरकार बच्चों एवं उनके अभिभावकों के वहां आने-जाने के खर्च सहित उनकी सारी व्यवस्था करेगी । इलाज के उपरांत जब बच्चे वापस आ जायेंगे तो स्वास्थ्य मंत्री सहित अन्य अधिकारी आप सभी लोगों से मुखातिब होकर अपनी पूरी बात बतायेंगे । जानकारी दी गई है कि 21 बच्चे इलाज के लिये जा रहे हैं । इलाज के लिये जा रहे बच्चों एवं उनके अभिभावकों से हमने बस में मुलाकात कर शीघ्र स्वस्थ होने की शुभकामना दी ।

निर्धारित समय में इस योजना की शुरुआत

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री को इस बात के लिये बधाई देता हूं कि निर्धारित समय में इस योजना की शुरुआत कर दी । हृदय में छेद के साथ जन्मे बच्चों का इलाज हो सकेगा ताकि वे स्वस्थ जीवन जी सकें । राज्य सरकार भी अपने यहां बाल हृदय रोगियों के निःशुल्क इलाज की व्यवस्था कर रही है । नवादा में संदिग्ध मौतों के संबंध में पूछे गये एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वहां जाकर एक - एक चीज की जानकारी लें । पटना से आज एक विशेष टीम नवादा गयी है , जो एक - एक चीज की जाँच करेगी और जरूरी कार्रवाई करेगी । इसके पश्चात् मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री सचिवालय स्थित संवाद में ' बाल हृदय योजना ' पर आधारित एक लघु फिल्म का अवलोकन भी किया ।

इस अवसर पर मौजूद रहे ये लोग

इस अवसर पर शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी , स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार , स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत , मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, मुख्यमंत्री के सचिव अनुपम कुमार कार्यपालक निदेशक राज्य स्वास्थ्य समिति मनोज कुमार, बिहार चिकित्सा सेवायें एवं आधारभूत संरचना निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक प्रदीप झा, जिलाधिकारी डॉ. चन्द्रशेखर सिंह, वरीय पुलिस अधीक्षक उपेन्द्र शर्मा सहित स्वास्थ्य विभाग के अन्य वरीय पदाधिकारी उपस्थित थे ।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story