बजट 2020: जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लिए बड़े ऐलान, जारी हुए इतने हजार करोड़

केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट भाषण में कहा कि सरकार केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू कश्मीर और लद्दाख के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। वित्तमंत्री ने बजट में साल 2020-21 के लिए जम्मू और कश्मीर के लिए 30,757 करोड़ रुपए आवंटित किए हैं।

नई दिल्ली: केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट भाषण में कहा कि सरकार केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू कश्मीर और लद्दाख के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। वित्तमंत्री ने बजट में साल 2020-21 के लिए जम्मू और कश्मीर के लिए 30,757 करोड़ रुपए आवंटित किए हैं।

लद्दाख में विकास कार्यों के लिए 5958 करोड़ आवंटित किए गए हैं। सीतारमण ने कहा कि दोनों केंद्र शासित प्रदेशों का समुचित विकास हो, इसका पूरा ध्यान सरकार को है।

शिक्षा पर वित्त मंत्री ने कहा कि जल्द नई शिक्षा नीति की घोषणा की जाएगी। उन्होंने कहा कि मार्च 2021 तक 150 उच्च शिक्षण संस्थान शुरू हो जाएंगे। इन संस्थानों में स्किल्ड प्रशिक्षण दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें…Budget 2020 Live: कृषि, शिक्षा और स्वास्थ्य पर निर्मला सीतारमण ने की बड़ी घोषणा

अपने बजट भाषण में वित्त मंत्री ने कहा कि क्वालिटी एजुकेशन के लिए डिग्री लेवल ऑनलाइन स्कीम शुरू किया जाएगा। इसके अलावा नेशनल पुलिस यूनिवर्सिटी का प्रस्ताव रपखा गया।

नेशनल फॉरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी का भी प्रस्ताव भी रखा गया है। सीतारमण ने कहा कि डॉक्टरों की कमी दूर करने के लिए हर जिला अस्पताल के साथ मेडिकल कॉलेज बनेगा। इस बजट में शिक्षा के लिए 99300 करोड़ रुपये शिक्षा के लिए और 3000 करोड़ स्किल डेवलपमेंट के लिए आवंटित किए गए हैं।

यह भी पढ़ें…सरकार का बड़ा ऐलान: किसानों को मिला बजट 2020 में ये ख़ास तोहफा

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट भाषण के दौरान एक कश्मीरी कविता का जिक्र किया। उन्होंने बजट के पीछे मूल भावना का जिक्र करते हुए यह कश्मीरी कविता पढ़ी।

यह भी पढ़ें…बजट 2020: मोदी सरकार के 6 साल के कार्यकाल में इनकम टैक्स में हुए ये बड़े बदलाव

कश्मीर में कविता पढ़ने के बाद उन्होंने इसका हिंदी मतलब बताया। उन्होंने कहा, ‘हमारा वतन खिलते हुए शालीमार बाग जैसे, हमारा वतन डल झील में खिलते हुए कमल जैसा, नौजवानों के गर्म खून जैसा, मेरा वतन, तेरा वतन, हमारा वतन, दुनिया का सबसे प्यारा वतन।