बजट-2020 पर मिली-जुली प्रतिक्रिया, यहां जानें क्या कहा किसानों ने

मोदी सरकार 2.0 का अपना पहला पूर्ण आम बजट आज सदन में वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने पेश किया । इस बजट पर देश के सभी वर्गों की आस लगी हुई थी मगर बजट सामने आते ही कुछ लोगों की आशा, निराशा में बदल गयी । आज बाराबंकी के किसानों से हमने उनसे इनकी आशाओं के सम्बन्ध में बात की ।

Published by SK Gautam Published: February 1, 2020 | 7:28 pm
Modified: February 1, 2020 | 7:29 pm
सबसे लंबा बजट भाषण देने वाली वित्त मंत्री बनी निर्मला सीतारमण

सबसे लंबा बजट भाषण देने वाली वित्त मंत्री बनी निर्मला सीतारमण

बाराबंकी: मोदी सरकार 2.0 का पहला पूर्ण बजट को लेकर देश का हर तबका नज़र गड़ाये बैठा था । इस बजट को लेकर भारत का किसान भी काफी उम्मीदें लगाए बैठा था आज किसानों की आशाओं और आकांक्षाओं के सम्बन्ध बाराबंकी के किसानों से बात की । इस पर किसानों की मिलीजुली प्रतिक्रिया सामने आई कुछ किसान इस बजट से काफी खुश दिखे और कुछ किसानों को इस बजट से निराशा हुई । कुल मिलाकर वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण का यह बजट कहीं खुशी, कहीं गम दिखाई दिया ।

कुछ किसानों की आशा निराशा में बदली

मोदी सरकार 2.0 का अपना पहला पूर्ण आम बजट आज सदन में वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने पेश किया । इस बजट पर देश के सभी वर्गों की आस लगी हुई थी मगर बजट सामने आते ही कुछ लोगों की आशा, निराशा में बदल गयी । आज बाराबंकी के किसानों से हमने उनसे इनकी आशाओं के सम्बन्ध में बात की ।

ये भी देखें : बजट 2020 – एफोर्डेबल हाउसिंग बनाने वाले बिल्डरों को रियायत

अन्नदाताओं को निराश करने वाला बजट है

किसानों ने इसे किसानों के हित का बजट बताया तो कुछ किसानों ने यहाँ तक कहा कि इस बजट में किसानों के लिए कुछ नया है ही नही इसलिए यह अन्नदाताओं को निराश करने वाला बजट है । कुछ किसानों ने कहा कि देश की 65 प्रतिशत आबादी कृषि पर आश्रित है और 65 प्रतिशत को दरकिनार करना सरकार के लिए ठीक नही है , अगर कृषि को उद्योग का देकर किसानों को कुछ और सहूलियत दी जाती तो किसानों के लिए ज्यादा हितकर होता ।

ये भी देखें : अभी-अभी एम्स में भीषण आग, कई मरीज फंसे, दमकल की 10 गाड़ियां मौके पर

कृषि में पदमश्री से सम्मानित किसान राम शरण वर्मा ने बताया कि मोदी सरकार का यह बजट तो उन्होंने पूरा सुना नही है मगर जो सुना है उसके अनुसार किसानों को अलग से बिजली देने की बात की गई है जो किसानों के लिए काफी हितैषी है और दूसरी तरफ किसानों को सोलर पम्प दिए जाने की बात भी किसानों की सिंचाई के लिए बहुत ही अच्छा कदम है इससे डीजल पर किसानों की निर्भरता भी कम होगी । कुल मिला कर किसानों के लिए यह बजट दूरगामी अच्छे परिणाम लेकर आने वाला बजट है ।