बिज़नेस

ऐसे में देश में भी सुबह 6 बजे से पेट्रोल-डीजल का नया दाम लागू हो जाता है। वैसे अगर आपको अपने शहर में पेट्रोल-डीजल के दाम पता करने हैं तो आप इंडियन ऑयल ग्राहक RSP<डीलर कोड> 92249 9 2249 पर मैसज भेजकर दाम पता कर सकते हैं।

सऊदी अरब के सऊदी अरामको तेल कंपनी पर आतंकियों द्वारा ड्रोन हमला किए जाने के बाद ब्रेंट क्रूड की कीमतों में सोमवार को 28 साल में सबसे बड़ी बढ़ोत्तरी हुई है। इंटरनेशनल मार्केट में ब्रेंट क्रूड की कीमतों में 20 फीसदी की तेजी आई है।

30 अगस्त को हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीतारमण ने 10 सरकारी बैंकों के विलय से चार बड़े बैंक बनाने की घोषणा की थी। इस दौरान यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और ओरिएंटल बैंक का पंजाब नेशनल बैंक में विलय होने की घोषणा की गई थी।

30 अगस्त को हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीतारमण ने 10 सरकारी बैंकों के विलय से चार बड़े बैंक बनाने की घोषणा की थी। इस दौरान यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और ओरिएंटल बैंक का पंजाब नेशनल बैंक में विलय होने की घोषणा की गई थी।

भारत देश इस वक़्त एक बड़ी आर्थिक मंदी से गुज़र रहा है। पूरे देश में लाखों लोगों की नौकरी चली गयी है। दिन-प्रतिदिन देश और सरकार के सामने एक नयी मुश्किल कड़ी होती नज़र आ रही है।   

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) भारत में मोटी कमाई कर रही अमेजॉन, ऊबर, जैसी विदेशी कंपनियों की कमाई पर ज्यादा टैक्स लगाने की तैयारी में है। ये कंपनियां भारत से कमाई तो खूब करती हैं लेकिन यहां पर मुनाफा बहुत कम दिखाती हैं।

ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स ने जानकारी देते हुए बताया कि दोनों कारोबारियों ने उसकी मुंबई स्थित शाखा से 289 करोड़ का लोन लिया था। नोटिस के मुताबिक नीरव मोदी की कंपनी फायरस्टार इंटरनेशनल प्राइवेट लिमिटेड व फायरस्टार डायमंड प्रा. लि. ने

अगरतला, ऐझॉल, बेलापुर, बेंगलुरु, भोपाल, चेन्नई, हैदराबाद, जयपुर, जम्मू, कानपुर, कोच्चि, कोलकाता, लखनऊ, मुंबई, नागपुर, नई दिल्ली, पटना, रायपुर, रांची, शिमला, श्रीगर और तिरुअनंतपुरम में 10 सितंबर को मोहर्रम (ताजिया)/अशूरा/पहला ओनम के अवसर बैंकों की छुट्टी रहेगी।

नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में सीएनजी के बढ़ने के बाद दाम 53.50 रुपये प्रति किलो हो गए हैं, जबकि गुरुग्राम और रेवाड़ी में 58.95 रुपये तो करनाल में सीएनजी के दाम 55.95 रुपये प्रति किलो हो गए हैं।

सबसे पहले बात किसी भी बैंक के मर्ज होने से उन लोगों पर जरूर असर पड़ेगा, जिनका मर्ज होने वाले बैंकों में में सेविंग अकाउंट या फिक्स्ड डिपॉजिट है। जब-जब बैंकों को मर्ज किया जाता है, तब-तब बैंकों की कई ब्रांच बंद होती हैं तो कई नई ब्रांच खुलती हैं।