चुनाव

विधानसभा चुनाव के नतीजें आने के बाद महाराष्ट्र के सीएम देवेन्द्र फडणवीस मुंबई के भाजपा कार्यालय पहुँचे तो कार्यकर्ताओं ने उनका मुँह मीठा कराया, फूल माला देकर सम्मानित किया।

महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के नतीजे आ चुके हैं। बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को जीत मिली है। दोनों पार्टियों को 161 सीटें मिली हैं, तो वहीं कांग्रेस-एनसीपी 98 सीटों पर जीत दर्ज की है।

हरियाणा और महाराष्ट्र में हुए विधानसभा चुनाव के कल नतीजे आने के बाद हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर भाजपा शीर्ष नेतृत्व से मुलाकात करने के लिए दिल्ली रवाना हो चुके हैं।

जननायक जनता पार्टी के दुष्यंत चौटाला ने इस बार सबको चौंका दिया है। दरअसल इस बार उनकी ओर से प्रदर्शन अच्छा हुआ है और पार्टी ने हरियाणा विधानसभा चुनाव में कुल 10 सीटें जीतीं हैं। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि इस बार उनके साथ सत्ता की चाबी हो सकती है।

महाराष्ट्र और हरियाणा चुनाव नतीजों के बाद कांग्रेस ने बीजेपी पर निशाना साधा है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने कहा कि बीजेपी भले ही इन नतीजों को अहंकार में अपनी जीत मान रही हो, लेकिन असल में यह उसकी नैतिक हार है।

सूत्रों के मुताबिक, जानकारी आ रही है बीजेपी यहां जेजेपी के समर्थन से सरकार बना सकती है। इस बीच बीजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक में फैसला लिया गया है कि मनोहर लाल खट्टर और देवेंद्र फडणवीस ही सीएम होंगे।

हरियाणा में अबकी बार 75 पार के नारे के साथ चुनाव मैदान में उतरी भाजपा वैसा दमदार प्रदर्शन नहीं कर सकी जैसी उम्मीद की जा रही थी। दूसरी ओर कांग्रेस को इस बार चुनावी मैदान में कमजोर खिलाड़ी माना जा रहा था मगर उसने दमदार प्रदर्शन से सियासी पंडितों को भी चौंका दिया।

महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन ने जीत हासिल की है। दोनों पार्टियां एक बार फिर राज्य में सरकार बनाने जा रही हैं। लेकिन महाराष्ट्र की एक विधानसभा सीट के परिणाम ने सभी को चौंका दिया है।

महाराष्ट्र और हरियाणा व उप्र उपचुनाव में हुये चुनाव के नतीजे आ गए हैं। तो आइये वोटों की हिस्सेदारी पर एक नजर डालते हैं...

महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव के अलावा 18 राज्यों के 53 सीटों पर उपचुनाव के लिए गिनती हुई। इसमें महाराष्ट्र और बिहार की एक-एक लोकसभा सीटें भी शामिल हैं। विधानसभा चुनाव की तरह से इस उपचुनाव में भी बीजेपी को मनमुताबिक सफलता नहीं मिली हैं।