यहां बहुमत से दूर BJP ऐसे बनाएगी सरकार, जानिए पूरा प्लान

जननायक जनता पार्टी के दुष्यंत चौटाला ने इस बार सबको चौंका दिया है। दरअसल इस बार उनकी ओर से प्रदर्शन अच्छा हुआ है और पार्टी ने हरियाणा विधानसभा चुनाव में कुल 10 सीटें जीतीं हैं। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि इस बार उनके साथ सत्ता की चाबी हो सकती है।

नई दिल्ली: दिवाली से पहले हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को मन-मुताबिक नतीजे नहीं मिले हैं। भले ही महाराष्ट्र में बीजेपी जीत का जश्न मना रही हो, लेकिन हरियाणा में वह सत्ता के लिए जोड़-तोड़ कर रही है। गुरुवार को आए आंकड़ों के अनुसार, बीजेपी ने हरियाणा में 40 सीटें हासिल की हैं, जबकि बहुमत के लिए किसी भी पार्टी को 46 नंबर चाहिए ही चाहिए।

यह भी पढ़ें: BJP का बड़ा फैसला: ये होंगे महाराष्ट्र और ​हरियाणा के CM

बीजेपी को 6 विधायकों की जरूरत है, ताकि वो सत्ता में आ सके। वहीं, आज मुख्यमंत्री पद से मनोहर लाल खट्टर इस्तीफा देंगे। वह राज्यपाल को अपना इस्तीफा देंगे। इसके बाद नई सरकार को बनाने के लिए प्रक्रिया शुरू होगी। अब 6 विधायकों की बात करें तो ये देखने वाला होगा कि बीजेपी के पास 6 विधायक कैसे आते हैं। सबसे बड़ा सवाल ये है कि क्या इस बार बीजेपी किसी जादुई आंकड़े का जुगाड़ कर पाएगी?

जानिए हरियाणा के फाइनल आंकड़े

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) हरियाणा विधानसभा चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। हालांकि, सरकार बनाने के लिए उसके पर अभी भी 6 विधायक कम हैं, जबकि कांग्रेस ने इस बार बेहतर परफॉर्मेंस दी है और वह दूसरी सबसे बड़ी पार्टी बनी है। आइए जानते हैं कि इस बार के हरियाणा के फाइनल आंकड़े क्या हैं?

  • भाजपा- 40
  • कांग्रेस- 31
  • जेजेपी- 10
  • निर्दलीय- 7
  • हरियाणा लोकहित पार्टी- 1
  • इंडियन नेशनल लोक दल- 1

कौन-कौन देगा बीजेपी का साथ?

इस बार सबसे बड़ा सवाल ये है कि बीजेपी का साथ देने वाले 6 विधायक कौन हो सकते हैं? दो विधायकों ने गुरुवार शाम तक तो बीजेपी को समर्थन देने की घोषणा की थी, लेकिन अभी भी चीजें पार्टी के पक्ष में नहीं हैं।

यह भी पढ़ें: इधर आये चुनाव के नतीजे-उधर गोलीबारी शुरू, नहीं मानेंगे ये…  

वहीं, निर्दलीय विधायक रंजीत सिंह चौटाला और हरियाणा जनहित पार्टी के विधायक गोपाल कांडा ने भारतीय जनता पार्टी को समर्थन देने का ऐलान किया है। इसके अलावा गोपाल कांडा के भाई गोविंद कांडा ने दावा किया है कि वह पार्टी के लिए 6 विधायक लाएंगे।

क्या किंगमेकर बनेंगे दुष्यंत चौटाला?

जननायक जनता पार्टी के दुष्यंत चौटाला ने इस बार सबको चौंका दिया है। दरअसल इस बार उनकी ओर से प्रदर्शन अच्छा हुआ है और पार्टी ने हरियाणा विधानसभा चुनाव में कुल 10 सीटें जीतीं हैं। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि इस बार उनके साथ सत्ता की चाबी हो सकती है। अगर दुष्यंत चौटाला बीजेपी के साथ जाते हैं तो बीजेपी बड़ी आसानी से राज्य में सरकार बनाने में कामयाब हो जाएगी। अब देखना ये है कि आगे क्या होता है।