रामपुर उपचुनाव: हिरासत में 3 बीएलओ और 20 पोलिंग एजेंट, DM ने कही ये बात

उत्तर प्रदेश में 11 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए मतदान हो रहा है। रामपुर सदर सीट पर उपचुनाव के दौरान पुलिस ने फर्जी बूथ एजेंटों को पकड़े है। पुलिस सभी को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

रामपुर: उत्तर प्रदेश में 11 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए मतदान हो रहा है। रामपुर सदर सीट पर उपचुनाव के दौरान पुलिस ने फर्जी बूथ एजेंटों को पकड़े है। पुलिस सभी को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

बता दें कि रामपुर सीट से आजम की पत्नी तंजीन फातिमा बतौर एसपी कैंडिडेट मैदान में हैं। उपचुनावओं के दौरान प्रशासन ने सख्ती बरत रहा है।

यह भी पढ़ें…कोर्ट के इस आदेश से बिजनेसमैन रतुल पुरी की मुश्किलें बढ़ी, पढ़ें क्या है ये पूरा मामला

मतदान के दौरान गड़बड़ी करने के आरोप में पुलिस ने तीन बीएलओ और 20 पोलिंग एजेंटों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। हिरासत में लिए बीएलओ पर प्रत्याशियों की पर्चियां बांटने का आरोप है, जबकि पोलिंग एजेंट वैध पहचान पत्र नहीं दिखा पाए हैं।

रजा डिग्री कॉलेज में मतदान केंद्र से एसपी रामपुर अजय पाल शर्मा ने एक फर्जी पोलिंग एजेंट को हिरासत में लिया। वह अपना आईडी प्रूफ नहीं दिखा पाया। इस दौरान तीन बीएलओ को भी हिरासत में लिया गया है।

यह भी पढ़ें…अभी-अभी बड़ा हादसा: वोटरों से भरी बस का एक्सीडेंट, 3 की मौत

हादी स्कूल के पास से दो बीएलओ को डीएम आंजनेय कुमार सिंह के निर्देश पर पुलिस ने हिरासत में ले लिया, जबकि तीसरा बीएलओ निकल भागा, उसकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है। इन पर प्रत्याशियों की पर्ची बांटने का आरोप है।

मतदान के दौरान किसी भी पोलिंग बूथ से किसी प्रकार की गड़बड़ी की सूचना नहीं मिली है। मॉक पोल के दौरान कुछ बूथों पर ईवीएम ने गड़बड़ की थी, लेकिन प्रशासन की ओर से मुहैया कराए गए इंजीनियर ने समय रहते ईवीएम को दुरुस्त करके समय से मतदान शुरू करा दिया।

यह भी पढ़ें…अयोध्या केस: जानें क्या है मोल्डिंग ऑफ रिलीफ, जिस पर हिन्दू और मुस्लिम पक्ष हैं आमने -सामने

जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार ने बताया कि पूरी विधानसभा क्षेत्र में शांतिपूर्वक मतदान चल रहा है। वह स्वयं अधिकारियों की टीम के साथ मतदान प्रक्रिया पर नजर रखे हुए हैं।

रामपुर में विधानसभा उपचुनाव के दौरान प्रशासन ने सख्त रवैया अपनाया। ई रिक्शाओं की हवा निकाल दी गई इसके अलावा मतदान केंद्रों पर बिना आईडी के किसी को प्रवेश नहीं करने दिया गया। दिन चढ़ने के बाद प्रशासन ने सख्त रवैया अपनाना शुरू कर दिया।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App