कोरोनाः बाहरी व्यक्ति को गुपचुप ठहराया तो होगी कठोर दंडात्मक कार्रवाई

जो भी लोग बाहरी जनपदीय-राज्य-या देश से यहां आए है उनकी सूचना पुलिस प्रशासन को या कंट्रोल रूम पर फोन करके अवश्य दें यदि किसी बाहरी व्यक्ति को गुपचुप तरीके से ठहरने दिया उसकी जानकारी नही दी तो उनके विरुद्ध कठोर दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।

बागपतः नोवेल कोरोना वायरस संक्रमण से लड़ने के लिए प्रशासन अधिक सतर्क नज़र आ रहा है । कोरोना वायरस के बचाव के लिए डीएम-एसपी खुद जनपद की तमाम गतिविधियों पर नज़र बनाये हुए हैं। सभी लोगों से घरों में रहने और लॉकडाउन के पालन करने की लगातार अपील कर रहे है।

समाज के मौजिज लोगों व धर्मगुरुओं के साथ बैठक कर दिशा निर्देश भी दिए जा रहे हैं। बागपत के बड़ौत कोतवाली परिसर में भी आज एक बैठक की गई जिसमें हिन्दू-मुस्लिम-सिक्ख-ईसाई सभी धर्म के गुरुओं को बुलाया गया था।

धर्मगुरुओं को अपील के साथ चेतावनी

बैठक में डीएम ने सभी मुस्लिम धर्मगुरुओं से साफ कहा कि मुस्लिम लोग नमाज के लिए मस्जिदों में इकट्ठा न हों घर पर रहकर ही नमाज अदा करें और सभी धर्म के गुरुओं से अपील करते हुए कहा है कि जो भी लोग बाहरी जनपदीय-राज्य-या देश से यहां आए है उनकी सूचना पुलिस प्रशासन को या कंट्रोल रूम पर फोन करके अवश्य दें यदि किसी बाहरी व्यक्ति को गुपचुप तरीके से ठहरने दिया उसकी जानकारी नही दी तो उनके विरुद्ध कठोर दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।

साथ ही डीएम बागपत शकुंतला गौतम ने बैठक में पहुँचे मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष से भी अपील की है कि सभी मेडिकल स्टोर संचालक लोगों को 5-10 प्रतिशत छूट कर दवा उपलब्ध कराएं। दवाओं को एमआरपी पर न बेचा जाए जिससे सभी लोग आसानी से दवा खरीद सकें।

उन्होंने कहा है कि जनपद में लगभग 390 किराना-फल-सब्जी के विक्रेता हैं उन सभी से भी अपील की गई कि कोई भी सामान की जमाखोरी या कालाबाजारी न करें। सभी सामान पूर्ण मात्रा में उपलब्ध हैं इसीलिए यदि कोई निर्धारित कीमत से अधिक पर सामान बेचता है, कालाबाजारी करता है तो उसके विरुद्ध भी आवश्यक वस्तु अधिनियम की धारा 3/7 के तहत एफआईआर दर्ज की जाएगी।

जनपद के 10 सेक्टर मजिस्ट्रेट व एडीएम- एएसपी, एसडीएम-सीओ भी लगातार क्षेत्र में भ्रमण कर रहे हैं और लॉकडाउन को पालन कराने की सख्ती से कारवाई कराई जा रही है। डीएम बागपत ने बताया है कि जनपद में कुल 2456 लोगों को होम क्वारंटाइन कराया गया है जिनमें से लगभग 25 लोगों के सन्दिग्ध पाए जाने पर सेम्पल लेकर बाहर भेजे गए, जिनमें से 23 सेम्पल नेगेटिव पाए गए हैं, जबकि 1 पोसिटिव केस मिला है। एक की रिपोर्ट अभी प्राप्त नही हुई है।

कुल 249 जमाती मिले

डीएम का कहना है कि जनपद में तबलीगी जमात के अभी तक कुल 249 लोग यहां मिले हैं जो जमात को आये हुए थे और घरों में छिपे थे, उनकी भी स्क्रीनिंग कराई गई है, मेडिकल चेकअप किया गया है, जिन्हें अब अलग अलग तीन स्थानों पर क्वारंटाइन किया गया है । साथ ही कुछ लोग जो जमात में शामिल हुए थे उनमें से कुछ लोगो को हल्का सा बुखार-खांसी-जुखाम मिला है जिनमें से 4 लोगों के सेम्पल लेकर बाहर जांच के लिए भेज दिए गए हैं जिनकी रिपोर्ट आने के बाद आगे की कारवाई पूर्ण की जाएगी।