विश्व कप 2019: रवि शास्त्री का विवादित बयान, इसलिए हारी इंडिया

इस मामले पर बवाल तब बढ़ा जब टीम के कोच रवि शास्त्री ने विवादित बयान दिया। एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू के दौरान उन्होंने इंडियन टीम के मिडिल ऑर्डर को लेकर कहा कि, ‘हां, टीम इंडिया को मिडिल ऑर्डर में एक मजबूत बल्लेबाज की जरूरत थी।

विश्व कप 2019: रवि शास्त्री का विवादित बयान, इसलिए हारी इंडिया

विश्व कप 2019: रवि शास्त्री का विवादित बयान, इसलिए हारी इंडिया

नई दिल्ली: आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 से टीम इंडिया बाहर हो गई है। इसके बावजूद न तो टीम इंडिया की आलोचनाएं कम हो रही हैं और न ही कोई दिक्कत। दरअसल, टीम इंडिया के पास बल्लेबाजी करने के लिए चौथे नंबर कोई फिक्स प्लेयर नहीं है।

यह भी पढ़ें: हार के बाद टीम इंडिया में मतभेद, जानें कौन जाएगा बाहर और कौन है अंदर

ऐसे में अब इसी मुद्दे को लेकर टीम इंडिया और कोच रवि शास्त्री आलोचना हो रही है कि वर्ल्ड कप में नंबर चार का बल्लेबाजी क्रम ही भारत की हार की बड़ी वजह बना। बता दें कि लोग अब इसपर सवाल कर रहे हैं कि क्या वाकई नंबर चार का बल्लेबाजी क्रम इतनी बड़ी दिक्कत थी या इसे दिक्कत बनाया गया।

यह भी पढ़ें: World Cup 2019: विराट ने हार के बाद अभी दिया ये बड़ा बयान

इस मामले पर बवाल तब बढ़ा जब टीम के कोच रवि शास्त्री ने विवादित बयान दिया। एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू के दौरान उन्होंने इंडियन टीम के मिडिल ऑर्डर को लेकर कहा कि, ‘हां, टीम इंडिया को मिडिल ऑर्डर में एक मजबूत बल्लेबाज की जरूरत थी। यह एक चीज थी जो हमेशा से हमारे लिए दिक्कत थी। मगर हम इसे खत्म नहीं कर सके। केएल राहुल थे लेकिन शिखर धवन घायल हो गए। इसके बाद फिर विजय शंकर को भी चोट लग गई। हम इस पर नियंत्र नहीं पा सके।’

यह भी पढ़ें: हार से निराश खिलाड़ियों का भावुक मैसेज, कप्तान कोहली ने की फैन्स से ये अपील

शास्त्री से मयंक अग्रवाल के बारे में भी पूछा गया कि क्या टीम उन्हें मौका नहीं दे सकती थी। इसपर उन्होंने जवाब दिया कि जो कुछ हुआ वो काफी जल्दी में हुआ। जब मयंक आए तब केएल राहुल ने 60 रन बनाये। इसके बाद उन्होंने शतक जड़ दिया।

यह भी पढ़ें: कोहली ने वर्ल्ड कप नॉकआउट फॉर्मेट बदलने का किया समर्थन, कहा- ऐसा हो प्लेऑफ

शास्त्री ने इस दौरान महेंद्र सिंह धोनी की भी तारीफ की और कहा कि पूरी टीम स्पष्ट थी धोनी एक अनुभवी खिलाड़ी और बेस्ट फिनिशेर हैं। इसलिए उन्हें मैच फिनिश करने के लिए रखा गया। मगर जैसा टीम ने सोचा वैसा हो नहीं पाया।