Top

Agra Crime News: मिठाई कारोबारी की हत्या की फिराक में निकले दो शूटर गिरफ्तार, तमंचे और कारतूस बरामद

Agra Crime News: फतेहाबाद कस्बे के सबसे बड़े मिठाई कारोबारी की हत्या करने निकले दो शातिर बदमाशों को पुलिस टीम ने गिरफ्तार कर लिया है।

Rahul Singh

Rahul SinghReport Rahul SinghAshikiPublished By Ashiki

Published on 23 Jun 2021 1:23 PM GMT

Agra Crime News
X
पुलिस और गिरफ्तार आरोपी (फोटो- सोशल मीडिया)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Agra Crime News: फतेहाबाद कस्बे के सबसे बड़े मिठाई कारोबारी की हत्या करने निकले दो शातिर बदमाशों को पुलिस टीम ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस टीम की गिरफ्त में आए दोनों बदमाशों के नाम हरेंद्र नट और संजय है। दोनों बदमाश निबोहरा थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं। बताया जा रहा है कि दोनों आरोपी तारा उर्फ तरैया गैंग के सक्रिय सदस्य हैं और तारा उर्फ तर्राया के कहने पर सुपारी किलिंग की वारदात को अंजाम देते हैं।

दोनों आरोपियों ने मिठाई कारोबारी सुभाष चंद्र की हत्या की सुपारी ली थी। दोनों आरोपी पैंगोरिया स्वीट हाउस के मालिक सुभाष चंद्र की हत्या करने के इरादे से आ रहे थे सभी सूचना पुलिस को मिल गई पुलिस ने दोनों बदमाशों की घेराबंदी की और दोनों आरोपियों को तमंचा और कारतूस के साथ गिरफ्तार कर लिया।

वारदात का खुलासा करते हुए एसएसपी आगरा मुनीराज जी ने बताया कि 14 जून को गैंग के सदस्यों ने पैंगोरिया स्वीट हाउस के मालिक सुभाष चंद्र को खत भेजकर फिरौती मांगी थी। साथ ही धमकी दी थी कि अगर तुमने हमारी बात नहीं मानी तो जिंदा नहीं बचोगे। खत मिलते ही मिठाई कारोबारी सहम गए। उन्होंने समझदारी दिखाते हुए मामले की जानकारी थाना पुलिस को दी। पुलिस ने जाल बिछाया और दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। बदमाशों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस टीम और मिठाई कारोबारी ने राहत की सांस ली है।

मिठाई कारोबारी सुभाष पैंगोरिया पर वर्ष 2013 में भी जानलेवा हमला किया गया था। इस मामले में पुलिस ने बदमाश तारा को गिरफ्तार कर लिया था। बदमाश तारा फिलहाल भरतपुर जेल में बंद है और जेल से ही अपना नेटवर्क चला रहा है । पुलिस टीम सुभाष पेंगोरिया के ऊपर हुए हमले के मामले में अब तक 16 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है । पुलिस की गिरफ्त में आए दोनों आरोपी पेशेवर अपराधी हैं और पूर्व में भी जेल की सजा काट चुके हैं। आरोपी संजय 1 साल पहले सदर थाना क्षेत्र से ट्रैक्टर चोरी के मामले में जेल गया था। पुलिस के सामने संजय ने खुलासा किया है कि हरेंद्र नट ने उसे सुभाष पैंगोरिया की हत्या की सुपारी दी थी। आरोपी हरेंद्र नट भी पेशेवर अपराधी है। हरेंद्र नट के खिलाफ पांच अपराधिक मुकदमे दर्ज हैं।

Ashiki

Ashiki

Next Story