Top

Barabanki Crime News: गर्लफ्रेंड से शादी के लिए पत्नी को मार डाला, पढ़ें फिल्मी स्टाइल में हुई हत्याकांड की पूरी कहानी

Barabanki Crime News: बाराबंकी में एक शातिर पति ने प्रेमिका से शादी करने के लिए अपनी पत्नी की गोली मारकर हत्या कर दी और फिर अपने विरोधियों के नाम खुद ही केस दर्ज करा दिया।

Sarfaraz Warsi

Sarfaraz WarsiReport Sarfaraz WarsiAshikiPublished By Ashiki

Published on 30 Jun 2021 10:30 AM GMT

Barabanki Crime News: गर्लफ्रेंड से शादी के लिए पत्नी को मार डाला, पढ़ें फिल्मी स्टाइल में हुई हत्याकांड की पूरी कहानी
X

आरोपी को गिरफ्तार कर ले जाती पुलिस 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Barabanki Crime News: बाराबंकी में एक शातिर पति ने प्रेमिका से शादी करने और अपने विरोधियों को फंसाने के लिए ऐसी साजिश रची, जिसने सभी को झझकोर कर रख दिया। इस शातिर पति ने प्लान बनाकर पहले अपनी पत्नी की गोली मारकर हत्या की और फिर अपने विरोधियों के नाम खुद ही केस दर्ज करा दिया।

पुलिस को जब इसकी कहानी पर शक हुआ तो ये बेहद शातिराना ढंग से फरार हो गया, जिसके बाद पुलिस इसकी गिरफ्तारी के लिए कई दिनों तक खाक छानती रही, लेकिन यह इतना शातिर निकला इसने पुलिस को चकमा देकर कोर्ट में सरेंडर कर दिया। वहीं जब इस शख्स को पुलिस ने रिमांड पर लिया तो पूछताछ में उसने तोते की अपना गुनाह कबूल कर लिया। साथ ही उसके पीछे की वजह भी बताई।


यह पूरा मामला बीते 8 जून का है। जब बाराबंकी में असंद्रा थाना क्षेत्र के अरूई गांव के रहने वाले दामोदर नाम के शख्स ने रात करीब दस बजे पुलिस को अपनी पत्नी की हत्या की सूचना दी थी। उसने पुलिस को बताया कि वह अपनी पत्नी संगीता के साथ कार से देर रात घर जा रहा था तभी असन्दरा थाना क्षेत्र में सिद्धौर के आगे उसके गांव के ही सोनू वर्मा समेत उसके कई साथियों ने गाड़ी रोककर उस पर जानलेवा हमला कर दिया। इस हमले में वह अपनी जान बचाने के लिए गाड़ी से उतर कर भागा, तभी हमलावरों ने उसकी पत्नी की गोली मारकर हत्या कर दी। जानकारी पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दामोदर की पत्नी संगीता के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था।


दामोदर की तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ नामजद हत्या का मुकदमा भी पुलिस ने लिख लिया था, लेकिन जब पुलिस ने मामले में गहनता से जांच शुरू की तो खुद दामोदर की कहानी में ही कई विरोधाभास सामने आये। पुलिस का शक इसलिए भी और गहराया क्योंकि हमलावर कई थे, लेकिन उन्होंने उसे जिंदा छोड़ दिया जबकि सिर्फ उसकी पत्नी की हत्या की।

पुलिस ने जब इस एंगल से जांच करते हुए दामोदर पर ही शक की सुऊ टिकाई, तो कस में नए खुलासे होने शुरू हुए। जिसके बाद पुलिस उससे पूछताछ करती रही। इसके बाद 9 जून को जब उसकी पत्नी संगीता का शव पोस्टमार्टम के बाद अरूई गांव पहुंचा तो दामोदर के परिजनों ने काफी विरोध किया, क्योंकि उस समय दामोदर को पुलिस ने थाने पर ही पूछताछ के लिए रोक रखा था। जबकि दामोदर के परिजन उसको गांव लाने की जिद पर अड़ गए। जब पुलिस दामोदर को लेकर उसके गांव पहुंची तो उसने हंगामा शुरू कर दिया। उसके चिल्लाते ही ग्रामीणों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। इतने में मौका देखकर दामोदर फरार हो गया।

मृतका और बच्चे

दामोदर के फरार होते ही पुलिस का शक उस पर और गहरा हो गया। पुलिस ने उसकी तलाश शुरू की और जगह-जगह खाक छानती रही, लेकिन दामोदर पुलिस के हाथ नहीं आया। इसके बाद 21 जून को दामोदर ने बड़े ही नाटकीय ढंग से इसी बलवा वाले मामले में कोर्ट में सरेंडर कर दिया। इसके अगले ही दिन यानी 22 जून को पुलिस ने उसकी प्रेमिका को भी जेल भेज दिया। लेकिन केस अब तक सुलझा नहीं था, इसलिए पुलिस ने दामोदर को रिमांड पर लेकर पूछताछ करने का प्रार्थना पत्र कोर्ट में दिया। जिसे कोर्ट ने मंजूर कर लिया और अब रिमांड के दौरान पूछताछ में उसने मामले की एक-एक कड़ी को खोलकर रख दिया। पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त तमंचा बरामद कर लिया है।

वहीं इस मामले में एएसपी मनोज पांडेय ने बताया कि बीती 8 जून की रात कोठी थाना क्षेत्र के अरुई गांव निवासी दामोदर ने पुलिस को फोन कर सूचना दी थी कि उसकी पत्नी की गांव के ही कुछ लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी है और उसे भी मारने का प्रयास किया पर वह मौके से भागने में सफल रहा। उसने खुद को पत्नी के साथ बाराबंकी से घर वापसी के समय यह वारदात होने की बात कही थी। उन्होंने बताया कि इस मुकदमे में पूछताछ में आरोपी पति दामोदर की संलिप्तता सामने आई थी। 21 जून को दामोदर दूसरे मुकदमे में कोर्ट के सामने आत्मसमर्पण कर जेल चला गया था। इससे पुलिस का दामोदर पर शक और गहरा गया था। पुलिस ने जब उसकी प्रेमिका से पूछताछ की तो साजिश में उसके शामिल होने की बात सामने आई। फिर पुलिस ने रिमांड पर लेकर जब आरोपी पति से पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। दामोदर ने स्वीकार किया कि उसने ही अपनी पत्नी की हत्या की थी। क्योंकि वह अपनी प्रेमिका को पत्नी बनाकर घर पर रखना चाह रहा था।

Ashiki

Ashiki

Next Story