Top

कभी की थी मां-बहन की हत्‍या, सुधार गृह में रहकर पास किया ये एग्‍जाम

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 6 July 2018 3:13 PM GMT

कभी की थी मां-बहन की हत्‍या, सुधार गृह में रहकर पास किया ये एग्‍जाम
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नोएडा: पिछले साल दिसंबर में ग्रेटर नोएडा वेस्ट के गौर सिटी में मां-बहन की क्रिकेट बैट व पिज्जा कटर से हमला करके हत्या करने वाले किशोर ने बाल संरक्षण गृह में रहकर 10वीं परीक्षा पास की है। सीबीएसई की 10वीं परीक्षा में द्वितीय श्रेणी से पास करने पर इसे यूपी सरकार के महिला एवं बाल विकास विभाग की तरफ से 25 हजार रुपए के इनाम देने की घोषणा की गई है। वहीं, नोएडा बाल संरक्षण गृह में रहने वाले एक अन्य जुवेनाइल छात्र को प्रथम श्रेणी से परीक्षा पास करने पर 50 हजार रुपए इनाम दिया जाएगा।

इस साल यूपी के बाल संरक्षण गृहों में रहकर पढ़ाई करने वाले 50 छात्र परीक्षा में प्रथम या द्वितीय श्रेणी से पास हुए हैं। इन छात्रों 10वीं व 12वीं के लिए परीक्षा दी थी। इन छात्रों को यूपी के महिला एवं बाल विकास विभाग सम्मानित करने का फैसला लिया था। इस बारे में महिला एवं बाल विकास विभाग के डायरेक्टर आलोक टंडन भटनागर ने बताया कि जिस जिले के बाल संरक्षण गृह के छात्रों ने परीक्षा पास की है, उस जिले के प्रोबेशन अधिकारियों से वहां दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में भी जानकारी मांगी गई है। साथ ही प्रथम श्रेणी से पास होने वाले को 50 हजार और द्वितीय श्रेणी से पास होने वाले को 25 हजार रुपए का इनाम देने की बात कही गई है।

नोएडा बाल संरक्षण गृह से 2 छात्र हुए पास

गौर सिटी में मां-बहन की हत्या करने वाले छात्र ने 10वीं में द्वितीय श्रेणी से परीक्षा पास की है तो नोएडा बाल संरक्षण गृह में रहने वाले गाजियाबाद के छात्र ने 12वीं की परीक्षा दी थी। वह प्रथम श्रेणी से पास हुआ है। उसे 50 हजार रुपए का इनाम दिया जाएगा। नोएडा बाल संरक्षण गृह से यही दोनों छात्र शामिल हुए थे। बता दें कि इस समय नोएडा फेज-2 स्थित बाल संरक्षण गृह में 140 किशोर रह रहे हैं।

छात्र ने 4 दिसंबर 2017 की रात में किए थे डबल मर्डर

यह घटना टाइल्स कारोबारी के गौर सिटी-2 के फ्लैट में 4 दिसंबर 2017 की रात हुई थी। घर में टाइल्स कारोबारी की 42 वर्षीय पत्नी और 11 साल की बेटी का खून से लथपथ शव मिला था। घटना के बाद से कारोबारी का 10वीं में पढ़ने वाला बेटा लापता था। इसके बाद सोसायटी में लगे सीसीटीवी फुटेज से पता चला था कि छात्र रात में मोबाइल लेकर लिफ्ट से बाहर निकला और कैब लेकर चला गया था। पुलिस की जांच में पता चला था कि छात्र घटना वाली रात करीब साढ़े 11 बजे कैब लेकर नई दिल्ली स्टेशन पहुंचा था। वहां से लुधियाना फिर मुगलसराय स्टेशन पर किसी से फोन लेकर दो दिन बाद अपने पापा को कॉल किया था। उसी लोकेशन के आधार पर 8 दिसंबर 2017 को आरोपी को बनारस से पकड़ लिया गया था। छात्र ने पूछताछ में बताया था कि उसने क्रिकेट बैट और पिज्जा कटर से मां व बहन की हत्या कर दी थी। इसके बाद घर से करीब डेढ़ लाख रुपए और मां को फोन लेकर चला गया था।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story