Top

गैंग ऑफ खिवाई अरेस्‍ट, पुलिस ने दिया था ये नाम

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 6 July 2018 3:19 PM GMT

गैंग ऑफ खिवाई अरेस्‍ट, पुलिस ने दिया था ये नाम
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मेरठ: थाना सरूर पुलिस ने शुक्रवार को एक ऐसे गैंग का भंडाफोड़ किया है, जो मेरठ के अलावा आसपास के अन्य जिलों में भी वाहन चोरी और लूट आदि की घटनाओं को अंजाम देता था। पुलिस ने इस गिरोह के 11 सदस्यों को पकड़ने में कामयाबी हासिल की है। इस पकड़े गए सभी बदमाश खिवाई गांव के रहने वाले हैं। इसीलिए बदमाशों के इस गैंग को गैंग ऑफ खिवाई का नाम दिया गया है।

चोरी के वाहनों के बदल देते थे नंबर

थाना सरूरपुर पुलिस ने बदमाशों के इस गैंग को चेकिंग के दौरान पकड़ने का दावा किया है। इस संबंध में एसपी देहात राजेश कुमार का कहना है कि पकड़े गए बदमाश शातिर किस्म के हैं। पुलिस के मुताबिक पकड़े गए बदमाशों के खिलाफ कई अपराधिक मुकदमे पहले भी दर्ज हैं। ये गैंग चोरी के वाहनों के चेसिस और रजिस्ट्रेशन नंबर बदलकर उन्हें बेच देते थे। पुलिस ने बदमाशों के इस गिरोह के पास से अवैध असलाह भी बरामद किये हैं।

इंश्योरेंस से वसूलते थे पैसा

पुलिस के मुताबिक पूछताछ में पता चला है कि यह गैंग वाहन चोरी के करने के बाद उन्हें काटते नहीं थे। चोरी के वाहन ये नंबर बदलकर बेचते थे। इसके अलावा चोरी के वाहनों की रिपोर्ट दर्ज कराकर इंश्योरेंस कंपनी से उसका पैसा भी वसूल कर लेते थे। एसपी देहात राजेश कुमार का कहना है कि इस गिरोह के साथ मिले हुए उन लोगों का पता लगाया जा रहा है जो फर्जी नंबर के आधार पर आरसी तैयार करके देते थे। फिलहाल पुलिस का कहना है कि इस गैंग के पकड़े जाने से मेरठ ओर आसपास के जिलो में चोरी की घटनाओं पर लगाम लगेगी। पुलिस का कहना है कि पूछताछ में चोरी की कुछ और घटनाओं का भी खुलासा हो सकता है।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story