Top

छेड़छाड़ का विरोध करने पर युवती के बाप का कत्ल

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 22 Aug 2018 6:32 AM GMT

छेड़छाड़ का विरोध करने पर युवती के बाप का कत्ल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मेरठ: यूपी के मेरठ में युवती से छेड़छाड़ का एक ताजा मामला सामने आया है जहां युवती के विरोध करने पर दरिंदे ने उसके पिता पा चाकू से गोदकर हत्या कर दिया।

क्या है पूरा मामला

मेरठ जिले के लिसाडी गांव में छेडछाड का विरोध करने पर मंगलवार देर रात युवती के बाप को घर के बाहर ही पडोसी ने चाकू से गोद दिया। घायल पिता को आनंद अस्पताल में लेकर गए, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस ने देर रात आरोपियों को दबोच लिया। वहीं लोगों ने आरोपी के घर में टेंपों में आग लगा दी।

मामूली कहासुनी के बाद हत्या

लिसाडी गांव के रहने वाला अरशद मालिश करने का काम करता था। परिवार में दो बेटे और पांच बेटियां है। मझली बेटी को पडोसी युवक इमरान परेशान करता था। बताया जा रहा है कि वह युवती के साथ आये दिन छेडछाड कर रहा था। मामले की शिकायत युवती ने अपने पिता से की थी। अरशद ने इस बात को लेेकर इमरान से विरोध किया था। मंगलवार को आरोपी ने छींटाकशी की थी। इसको लेकर दोनों पक्षों में थोड़ी कहासुनी हो गई थी। इमरान ने अरशद को भुगत लेने की धमकी भी दी।

देर रात किया हमला

देर रात करीब 12 बजे अरशद अपने घर के बाहर बैठा हुआ था, इस दौरान इमरान नशे की हालत में चाकू लेकर आया और अरशद पर चाकू से वार कर दिए। हमले के बाद क्षेत्र में हडकंप मच गया। आरोपी वहां से भाग गया। लोगों ने आरोपी को पकडने का प्रयास किया। अरशद को घायल अवस्था में आनंद अस्पताल ले जाया गया, जहां देर रात उसकी मौत हो गई। जानकारी मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। पुलिस ने आरोपी युवक को दबिश देकर पकड़ लिया। बताया जा रहा है कि हमले के वक्त इमरान नशे में धुत था।

हत्यारोपी के घर भीड़ ने बोला धावा

लिसाडी गेट में अरशद की हत्या के बाद हडकंप मच गया। भीड ने आरोपी के घर में धावा बोल दिया। घर के बाहर खडे इमरान के टेंपों को भीड ने आग लगा दी। भीड ने घर पर पथराव करने का प्रयास किया। जानकारी के बाद पहुंची पुलिस ने किसी तरह से मामले को काबू में किया।

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story