Top

लावारिस हालात में रामगंगा किनारे मिले सैकड़ों आधार कार्ड, जांच के आदेश

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 12 Nov 2018 10:41 AM GMT

लावारिस हालात में रामगंगा किनारे मिले सैकड़ों आधार कार्ड, जांच के आदेश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बरेली: भारत सरकार ने देश के प्रत्येक नागरिक की पहचान के लिये आधार कार्ड की शुरुआत की है। ये आधार कार्ड आम आदमी की पहचान और जरूरत को पूरा करता है लेकिन आम आदमी को पहचान दिलाने वाला आधार कार्ड बड़ी संख्या में बरेली के रामगंगा नदी के किनारे लावारिस हालत में पड़े मिले है।

बड़ी संख्या में आधार कार्ड के मिलने की सूचना स्थानीय लोगों ने पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने लावारिस आधार कार्डों को कब्जे में ले लिया और कागजी कार्रवाई कर संबंधित थाना में जमा करा दिया। बड़ी संख्या में लावारिस हालात में आधार कार्ड मिलने से हड़कंप मचा हुआ है। वहीं जिला प्रशासन ने इस मामले में पूरी गहनता से जांच शुरू कर दी है।

डीएम वीरेन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि आधार कार्ड फेंकना एक गंभीर मामला है। पूरे मामले की जांच कराई जायेगी साथ ही इस मामले में संबंधित आधार ऐजेंसी से भी जांच कराई जा रही है। जांच के उपरान्त आवश्यक कार्यवाही की जाएगी।

बताते चले कि हाल में आंवला क्षेत्र में आधार कार्डों के नम्बर में हेराफेरी करके अनाज घोटाले के मामले सामने आए थे। इसी बात को ध्यान में रखकर यह आशंका जताई जा रही है कि सरकारी रकम को हड़पने के लिए फेंके गए आधार कार्डों का प्रयोग किया होगा। फिलहाल जांच के बाद ही यह पता चल पाएगा कि फेंके गए कार्ड असली या नकली है।

ये भी पढ़ें...बरेली: अस्पताल के कर्मचारी बने हैवान, किशोरी के साथ किया दुष्कर्म

ये भी पढ़ें...बरेली में हो सकता है बदांयू जैसा हादसा, एएसपी और एसीएम की जांच में हुआ खुलासा

ये भी पढ़ें...बंदी धार्मिक ग्रंथ पढ़कर सुधारेंगे अपनी ज़िन्दगी, बरेली डीएम ने शुरू की नई पहल

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story