Top

जारी है अवैध खनन का सिलसिला....आखिर कबतक?

shalini

shaliniBy shalini

Published on 10 Jun 2018 12:24 PM GMT

जारी है अवैध खनन का सिलसिला....आखिर कबतक?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बिजनौर: सरकार और सुप्रीम कोर्ट चाहे जितनी सख्ती बरत ले, खनन माफिया अपनी हरकतों से बाज नहीं आते। बिजनौर में अवैध खनन का काम जोरों पर चल रहा है। यहाँ थाना प्रभारी और चौकी प्रभारी की शह पर खनन का कारोबार धड़ल्ले से चल रहा है।

उत्तराखंड के युवा गायक पप्पू कार्की का निधन, हुआ अंतिम संस्कार

यूपी : BJP विधायक संगीत सोम पर 43 लाख की रिश्वतखोरी का आरोप

सूबे में योगी सरकारम को एक साल से अधिक का समय हो गया है,,,लेकिन पुलिस अफसरों के हालात नही बदले है। सूबे में योगी सरकार ने सरकार बनते ही कहा था कि खनन का अवैध कारोबार करने वाले माफियाओ के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। लेकिन सूबे के सीएम का आदेश जिले के पुलिस अफसरों के लिए शायद कोई मायने नही रखता।

जूही परमार की जिंदगी में 25 जून होगा खास, श्रॉफ नाम का कुमकुम नहीं होगा उनके पास

बिजनौर जिले के मंडावर ,बालावाली में कई नदियों से बड़े पैमाने पर अवैध खनन हो रहा है। इस अवैध खनन को देखकर यह अंदाजा लगाया जा सकता कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश की कैसे धज्जियाँ उड़ाई जा रही हैं। स्थानीय लोगो के अनुसार इन खनन माफियाओं को पुलिस का संरक्षण प्राप्त है।

ये केवल बिजनौर की नहीं, और भी कई जगहों की कहानी है। अब अगर सीएम के राज में पुलिस ही उनकी नहीं सुनेगी तो खनन माफियाओं का हौंसला तो बढ़ेगा ही। सवाल ये है कि आखिर कबतक ऐसे दबंगों को पुलिस का संरक्षण मिलेगा? क्या उन पुलिसकर्मियों के खिलाफ कोई कार्रवाई होगी?

shalini

shalini

Next Story