×

Jhansi Road Accident: कार को बचाने के चक्कर में पिकप व दो ट्रक आपस में भिड़े, दो की मौत एक घायल

Jhansi Road Accident: टक्कर इतनी जोरदार थी कि दोनों चालक ट्रक में बुरी तरह फंस गये थे। कई घंटे ट्रकों में फंसे चालक लगातार मदद की गुहार लगाते रहे पर राहगीर भी कुछ करने में असमर्थ थे क्योंकि उनको निकालना मुश्किल था।

B.K Kushwaha

B.K KushwahaWritten By B.K KushwahaPallavi SrivastavaPublished By Pallavi Srivastava

Published on 30 July 2021 1:00 AM GMT

Jhansi Road Accident: कार को बचाने के चक्कर में पिकप व दो ट्रक आपस में भिड़े, दो की मौत एक घायल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Jhansi Road Accident: कानपुर-ग्वालियर बाईपास पर एक दर्दनाक हादसा हो गया। जिसमें अचानक आयी कार(Car) को बचाने के चक्कर में पिकप व दो ट्रकों की भिड़न्त हो गई। दुर्घटना में ट्रकों में सवार चालकों की मौत(Death) हो गई तथा क्लीनर गम्भीर रूप से घायल(Ijured) हो गया। टक्कर इतनी जोरदार थी कि दोनों चालक ट्रक में बुरी तरह फंस गये थे। कई घण्टें ट्रकों में फंसे चालक लगातार मदद(Help) की गुहार लगाते रहे पर राहगीर भी कुछ करने में असमर्थ थे क्योंकि उनको निकालना मुश्किल था। दुर्घटना की जानकारी होने पर पुलिस मौके पर पहुंची और गैस कटर से ट्रकों की बॉडी काटकर अलग किया।

बता दें कि नवाबाद थाना क्षेत्र कानपुर-ग्वालियर हाइवे बाईपास पर प्याज व मक्का से भरे दो ट्रक जा रहे थे। जब दोनों ट्रक सरोज हॉस्पीटल के समीप पहुंचे, तभी पिकप के सामने एकाएक कार आ गई। कार को बचाने के प्रयास में पिकप के चालक का नियन्त्रण बिगड़ा और फिसलन होने के कारण पिकप पलटी। पिकप के पलटते ही दो ट्रकों की जोरदार भिड़न्त हुई। दुर्घटना इतनी जबरदस्त थी कि दोनों ट्रक एक दूसरे में घुस गये और पिकप बीच में दब गई।

कार को बचाने के प्रयास में हाइवे पर हुई दुर्घटना pic(social media)

दुर्घटना देख लोग मदद के लिए दौड़े और पुलिस को सूचना दी। दोनों ट्रकों में फंसे चालक खून से लथपथ होने के साथ ही मदद की गुहार लगा रहे थे। ट्रकों में बुरी तरह फंसे होने के कारण दोनों चालकों को निकालना मुमकिन नहीं हो रहा था। पुलिस व लोगों ने चालकों को निकालने का काफी प्रयास किया, परन्तु सफल नहीं हुए। इस पर पुलिस ने गैस कटर मंगाया और बॉडी काटकर ट्रकों में फंसे दोनों चालकों व एक क्लीनर को बाहर निकाला। पुलिस की इस कार्यवाही में काफी समय लग गया। इसके उपरान्त तीनों को मेडिकल कालेज भेजा गया जहां जांच उपरान्त चिकित्सक ने दोनों चालकों को मृत घोषित कर दिया। वहीं गम्भीर रूप से घायल क्लीनर को भर्ती कर लिया।

क्लीनर के पास मिले दस्तावेज पर उसकी शिनाख्त नौशाद निवासी गोंडा बस्ती के रूप में हुई, वहीं मृतक दोनों चालकों की शिनाख्त अभी नहीं हो सकी। उधर पिकप सवार चालक आदि की भी कोई जानकारी नहीं हुई। पुलिस ने क्रेन के माध्यम से वाहनों को हाइवे से हटाकर मार्ग सुचारू किया। पुलिस ने दोनों चालकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

अलग-अलग जगहों पर चार लोगों की मौत

अलग-अलग स्थानों पर चार लोगों की अकाल मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। चिरगांव थाना क्षेत्र के ग्राम मिरौना निवासी सुरेश चंद्र यादव ने कतिपय कारणों के चलते फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वहीं, मोंठ के ग्राम बम्हरौली निवासी विवेक कुमार ने बीमारी के चलते फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

सूचना पर गई पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। वहीं, लहचूरा थाना क्षेत्र के ग्राम गुढ़ा निवासी कल्पना सिंह की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। इसके अलावा बबीना थाना क्षेत्र के ग्राम बुड़पुरा के पास रेलवे लाइन पर 45 वर्षीय अज्ञात महिला का शव पड़ा मिला है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया।

Pallavi Srivastava

Pallavi Srivastava

Next Story