Top

शरारती तत्‍वों ने मंदिर में रखा मांस, हिंदू संगठनों ने जताया आक्रोश, बाजार बंद

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 24 Aug 2018 10:54 AM GMT

शरारती तत्‍वों ने मंदिर में रखा मांस, हिंदू संगठनों ने जताया आक्रोश, बाजार बंद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शामली: जिले में पुलिस की कार्यप्रणाली से नाराज व्यापारियों ने बाज़ार बंद कर दिया और धरने पर बैठ गए। व्यापारियों ने पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए। व्यापारियों का कहना है कि पुलिस ने उन शरारती तत्वों को तो गिरफ्तार नहीं किया, जिन्होंने शिव मंदिर में माँस रखा था और उल्टा व्यपारियों को ही हिरासत में ले लिया।

शिव मंदिर में मिला था मांस

जिले के बाबरी थाना क्षेत्र के बाबरी गांव का मामला है। जहाँ पर दो दिन पहले शरारती तत्वों द्वारा शिव मंदिर में माँस का टुकड़ा डाल दिया गया था। जिसके बाद हिन्दू संगठन के लोगों ने नाराजगी जाहिर की थी। पुलिस को 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया था कि 24 घंटे के अंदर शरारती तत्वों की गिरफ्तारी की जाए नहीं तो व्यापारी लोग आंदोलन करेंगे। जिसके बाद पुलिस आरोपियों को नहीं ढूंढ पाई और उल्टा दो व्यापारियों को हिरासत में ले लिया।

पुलिस द्वारा शरारती तत्वों की गिरफ्तारी न होने और उल्टा व्यपारियों को हिरासत में लेने की वजह से व्यापारियों में रोष व्याप्त है। व्यपारियों ने आज बाज़ार बंद कर दिया और पुलिस और प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए। व्यपारियों का कहना है कि अगर हमारे व्यापारी भाइयों को नहीं छोड़ा गया तो आज तो बाबरी का बाजार बंद हुआ है। लेकिन कल सम्पूर्ण शामली के बाज़ार बंद होंगे।

व्‍यापारियों ने बताया हिंदू समाज के साथ खिलावाड़

व्यापारी बलराम राणा ने बताया कि बाजार बन्द करने का कारण हिन्दू समाज के साथ खिलवाड किया जाना है। 22 अगस्त को शिव मन्दिर में शरारती तत्वों ने मांस का टुकडा फेंक दिया था। जिससे हिन्दू समाज में रोष था। उन्होंने पुलिस को 24 घण्टे का समय देकर शरारती तत्वों को गिरफ्तार करने का निवेदन किया था। 24 घण्टे बीत जाने के बाद भी पुलिस कुछ नहीं कर पाई। बल्कि दो ऐसे व्यापारियों को ही अरेस्‍ट कर लिया जो न्याय की मांग कर रहे थे।

बलराम राणा ने कहा कि हमारी मांग है कि उन व्यापारी भाईयों को सम्मान पूर्वक छोडा जाए। शरारती तत्वों को तुरन्त गिरफ्तार करें, नहीं तो आज केवल बाबरी का बाजार बन्द है। कल पूरी शामली के बाजार बन्द होगें और राष्ट्रीय स्तर पर आन्दोलन किया जायेगा।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story