Top

यूपी : BJP नेता की हत्या पर आक्रोश, NH जाम कर किया प्रदर्शन

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 1 July 2018 2:32 PM GMT

यूपी : BJP नेता की हत्या पर आक्रोश, NH जाम कर किया प्रदर्शन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सुल्तानपुर : उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर जिले में बीती रात बीजेपी नेता की हत्या कर दी गई। रविवार को केस में तब नया मोड़ आ गया जब हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए लोग उग्र हो गए। लोगों ने पोस्टमार्टम के बाद लाश को नेशनल हाईवे पर रखकर प्रदर्शन किया। अंत में एएसपी ने समझा-बुझाकर जाम को हटवाया।

ये भी देखें : बेटी के बाद अब दरोगा पिता की हत्या, क्यों खौफनाक है पूरा मामला

क्या था पूरा मामला

कादीपुर कोतवाली क्षेत्र के मकदूमपुर कला निवासी दलित भाजपा नेता अंनत कुमार 'पप्पू' को शनिवार की रात सशस्त्र बदमाशों ने गोलियों से भून दिया था। घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गई थी। शनिवार की रात करीब नौ बजे वे बाइक से कादीपुर से अपने घर की ओर जा रहे थे। बुढ़ाना नहर के पास अज्ञात बाइक सवार लोगों ने उन्हें रोका, जब तक पप्पू कुछ समझ पाते बदमाशों ने उन्हें गोलियों से भून दिया। फायरिंग की आवाज सुनकर कुछ लोग घटनास्थल पर पहुंचे तो पप्पू को सड़क पर कराहते देखा। इसके बाद उन्हें अस्पताल पहुंचाने की व्यवस्था की गई। इस बीच घटना की सूचना पाकर कोतवाली पुलिस भी पहुंच गयी। बवाल होने की आशंका के चलते पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया।

ये भी देखें : गजब गिराए हैं ये कांग्रेसी, योगी के गोरखपुर में जलमग्न सड़कों पर ‘मार रहे मछली’

इस घटना के बाद से भाजपाइयों में आक्रोश व्याप्त है। उनकी मांग है कि हत्यारों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए। देर रात तक कोतवाली में नेताओं की भीड़ लगी रही। पुलिस अफसरों ने बताया कि हत्या के कारणों का पता लगाया जा रहा है। हत्यारों की तलाश की जा रही है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story