Top

वाराणसी में चार साल की मासूम के साथ ‘दरिंदगी’, गुस्से में शहर के लोग

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 28 Aug 2018 2:41 PM GMT

वाराणसी में चार साल की मासूम के साथ ‘दरिंदगी’, गुस्से में शहर के लोग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

वाराणसी : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में बेटियों की सुरक्षा पर फिर से सवाल खड़े हुए हैं। यहां पर चार साल की एक मासूम के साथ रेप की घटना सामने आई है। घटना उस वक्त की है जब मासूम घर से बाहर गई हुई थी। मासूम से दरिंदगी की खबर के बाद बाद इलाके के लोग गुस्से में हैं। परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया है।

खेत में किया मासूम से दुष्कर्म

मासूम के साथ रेप की ये घटना फूलपुर इलाके की है। मासूम के परिजनों के मुताबिक मंगलवार को भोर में जब उनकी नींद खुली तो देखा कि मासूम रो रही थी। वजह पूछने पर वह बता नहीं पाई। इसके बाद जब दिन के उजाले में परिजनों ने मासूम को देखा तो दंग रह गए। मासूम के प्राइवेट पार्ट से खून बह रहा था। परिजनों के मुताबिक संभव है कि देर रात किसी ने उसके साथ रेप किया हो। क्योंकि बच्ची कुछ देर के लिए घर से बाहर गई थी।

एसएसपी ने जाना मासूम का हाल

परिजनों ने घटना की शिकायत फूलपुर थाने में की। जिसके बाद मासूम के मेडिकल के लिए उसे कबीरचौरा अस्पताल भेज दिया गया। घटना की सूचना होने पर मंगलवार को एसएसपी आनंद कुलकर्णी भी परिजनों से मिले और हर संभव मदद का भरोसा दिया। एसएसपी के मुताबिक घटना के बाबत धारा 376 और पाक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस आरोपी की तलाश में जुट गई है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story