दिल्ली चुनाव 2020: सीएम केजरीवाल का नामांकन टला, जानें क्या है वजह

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल का विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन टल गया। अब वह कल नामांकन दाखिल करेंगे।

Published by Shivani Awasthi Published: January 20, 2020 | 9:01 am
Modified: January 20, 2020 | 3:32 pm

दिल्ली: राजधानी दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने सोमवार को दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election) के लिए नामांकन दाखिल करने वाले थे लेकिन वे नामांकन दर्ज न करवा सके। बता दें कि सीएम ने नामांकन दाखिल करने से पहले रोड शो किया। वहीं रोड शो के चलते नामांकन दाखिल करने में देर हो गयी, जिसके कारण उनका नामांकन टल गया।

रोड शो में आम आदमी पार्टी के दिग्गज नेता शामिल रहे। बता दें कि रविवार को ‘आप’ ने केजिवाल का गारंटी कार्ड’ लांच किया था, जिसमें केजरीवाल सरकार के पांच सालों का लेखाजोखा है, वहीं इस मौके पर सीएम केजरीवाल ने दिल्ली की जनता से दस वादे भी किये।

नामांकन से पहले सीएम केजरीवाल का रोड शो:

आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सोमवार को नई दिल्ली विधानसभा सीट से नामांकन दाखिल करने के लिए घर से रवाना हुए। माँ से आशीर्वाद लेकर निकले केजरीवाल ने वाल्मीकि मंदिर पहुंचे। यहां से उनके रोड शो की शुरुआत हुई।

सीएम के रोड शो में बड़ी संख्या में आप कार्यकर्ता और दिग्गज नेता शामिल हुए। वहीं उनके बच्चे भी इस रोड शो में सीएम के साथ रहे।

ये भी पढ़ें: BJP के अध्यक्ष के रूप में आज हो सकती है जेपी नड्डा की ताजपोशी, अमित शाह की लेंगे जगह

बता दें कि केजरीवाल का रोड शो पंचकुइया मार्ग के जरिए कनॉट प्लेस के इनर सर्किल तक गया, जहां से बाबा खड़ग सिंह मार्ग से आउटर सर्किल पर काफिला रवाना हुआ। वहीं रोड शो का समापन पटेल चौक मेट्रो स्टेशन के नजदीक हुआ। इसके बाद सीएम केजरीवाल जामनगर हाउस स्थित एसडीएम कार्यालय में नामांकन दाखिल करने पहुंचे।

जारी किया केजरीवाल का गारंटी कार्ड, किये दस वादे:

बता दें कि रविवार को सीएम केजरीवाल ने पार्टी कार्यालय में ‘केजरीवाल का गारंटी कार्ड’ जारी किया था। इस के जरिये आप ने दोबारा सत्ता में आने के लिए दिल्ली की जनता से दस वादे किये। इनमें छात्रों के लिए मुफ्त बस सेवा और महिलाओं की सुरक्षा के लिए मोहल्ला मार्शल की नियुक्त सहित अनेक वादे किए।

ये भी पढ़ें:CAA का विरोध: सीएए रद्द करने के लिए सारे कांग्रेसी राज्यों ने उठाया ये कदम

आठ को दिल्ली चुनाव:

गौरतलब है कि दिल्ली विधानसभा की 70 सीटों के लिए आठ फरवरी को मतदान होगा। वहीं, 11 फरवरी को मतगणना का बाद फैसले का ऐलान हो जाएगा। आप समेत कांग्रेस और भाजपा ने अपने अपने उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर दिया है। वहीं नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख 21 जनवरी हैं।

ये भी पढ़ें:योगी पर विपक्ष के इस नेता का बड़ा आरोप, कहा 144 के बिना सरकार नही चल पा रही है