किन्नर हैं केजरीवाल: बोलते ही फंसे कांग्रेस नेता फिर मचा सियासी घमासान

दिल्ली चुनाव की घोषणा होते ही राजधानी में चुनावी तापमान बढ़ने लगा है। इसी के साथ नेताओं की ओर से बयानबाजियों का सिलसिला भी शुरू हो गया है।

नई दिल्ली।  दिल्ली चुनाव की घोषणा होते ही राजधानी में चुनावी तापमान बढ़ने लगा है। इसी के साथ नेताओं की ओर से बयानबाजियों का सिलसिला भी शुरू हो गया है। इसी कड़ी में कांग्रेस नेता और सांसद शशि थरूर ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के लिए किन्नर (Eunuch)शब्द का इस्तेमाल किया है।

थरुर ने तर्क देकर माफी मांगी

थरूर ने कहा कि अरविंद केजरीवाल बिना जिम्मेदारी के सत्ता चाहते हैं और किन्नर ऐसा सदियों से करते आए हैं। शशि थरूर के इस बयान पर सोशल मीडिया में उन्हें तीखी आलोचना का सामना करना पड़ा इसके बाद उन्होंने तर्क देकर माफी मांग ली।

ये भी पढ़ें-शशि थरुर बोले: सिर्फ परेशान करने के लिए लाया गया ‘तीन तलाक बिल’

शशि थरूर एक टीवी शो में शिरकत कर रहे थे। जब उनसे नागरिकता संशोधन कानून पर अरविंद केजरीवाल के रवैये को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि केजरीवाल सीएए के समर्थकों और विरोधियों दोनों को अपनी ओर करना चाहते हैं। शशि थरूर ने कहा कि आम आदमी पार्टी के नेता दोनों ओर से फायदा लेना चाहते हैं।

 

 विरोधी दलों की बैठक में आप शामिल नहीं हुई थी।

उन्होंने कहा कि केजरीवाल केंद्र सरकार की नागरिकता नीति का विरोध भी कर रहे हैं, लेकिन इसके खिलाफ कोई मजबूत कदम उठा भी नहीं रहे हैं। बता दें कि सोमवार को सोनिया ने सीएए के खिलाफ विपक्षी दलों की एक बड़ी बैठक बुलाई थी, इस बैठक में आप शामिल नहीं हुई थी।

ये भी पढ़ें-पीएम मोदी पर विवादित टिप्पणी कर फंस गए शशि थरुर, कोर्ट में दर्ज हुआ परिवाद

शशि थरूर ने कहा, “उन्होंने सामान्य मानवीय संवेदना भी नहीं दिखाई है जो हिंसा के पीड़ित लोग अपने राज्य के मुख्यमंत्री से उम्मीद करते हैं।” इसके बाद उन्होंने कहा, “केजरीवाल बिना जिम्मेदारी के सत्ता चाहते हैं, इसके बारे में हम सभी जानते हैं कि ये सदियों से किन्नरों का विशेषाधिकार रहा है, और इस तरह का अप्रभावी रुख सीएम के रूप में उनकी जगह को सुरक्षित रखेगा।

शशि थरूर ने अपने बयान के लिए माफी मांगी

मेरा कहना है कि आप अपनी पूरा राजनीतिक करियर ये कोशिश करते हुए खत्म कर सकते हैं कि आप दुश्मन न बनाएं, लेकिन आखिरकार आप किस चीज के लिए खड़े होते हैं?” कांग्रेस सांसद की इस टिप्पणी पर ट्विटर पर उन्हें लोगों ने ताने और उलाहने देने शुरू कर दिए। कुछ ही घंटों में शशि थरूर ने अपने बयान के लिए माफी मांगी।

ये भी पढ़ें- वाराणसी: शशि थरुर पर ACJM-6 कोर्ट में परिवाद दायर

शशि थरूर ने अपनी बात को समझाते हुए कहा, “उन लोगों से मैं माफी मांगता हूं जिन्हें ‘बैगर जिम्मेदारी के सत्ता’ वाले मेरे बयान को आपत्तिजनक माना। ये ब्रिटेन की राजनीति से लिया गया एक पुराना वाक्य है। जिसका ताल्लुक किपलिंग और प्रधानमंत्री स्टैनले बाल्डविन से है।

हाल ही में टॉम स्टॉपर्ड ने इसका इस्तेमाल किया था। मुझे एहसास है कि आज इसका इस्तेमाल अनुचित था, मैं इसे वापस लेता हूं।”