Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

LU सेमेस्टर Exam में फिर पकड़े गए 'मुन्ना भाई', कंट्रोलर ने कहा- हमारी टीमें हैं सक्रिय

aman

amanBy aman

Published on 21 Dec 2016 12:48 PM GMT

LU सेमेस्टर Exam में फिर पकड़े गए मुन्ना भाई, कंट्रोलर ने कहा- हमारी टीमें हैं सक्रिय
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: लखनऊ यूनिवर्सिटी (एलयू) के लॉ कोर्सेस के सेमेस्टर एग्जाम कराना 'मुन्ना भाईयों के चलते चुनौती बनता जा रहा है। लॉ के दोनों सेमेस्टर परीक्षाओं में छात्र नकल करने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे। फैजाबाद रोड स्थित सिटी लॉ कॉलेज में चल रहे सेमेस्टर परीक्षा में लगातार तीसरी बार छात्रों द्वारा सामूहिक नकल का खुलासा हुआ है।

सोमवार को सिटी लॉ कॉलेज में पहली पाली में दस और दूसरी पाली में छह छात्रों को नकल निरोधक दस्ता ने पकड़ा था। पकड़े गए सभी छात्रों को विवि ने 'अनफेयर मीन' (यूएफएम) के तहत कार्रवाई भी की थी।

यूनिवर्सिटी प्रशासन के दावे की खुली पोल

उस दिन यूनिवर्सिटी प्रशासन ने कहा था कि इस घटना से सख्‍ती से निपटा जाएगा। लेकिन इन दावों के महज दो दिन बाद बुधवार को एक बार फिर यूनिवर्सिटी के फ्लाइंग स्‍कवायड ने लॉ थर्ड सेमेस्‍टर के 6 स्‍टूडेंटस को नकल करते पकड़ा है। लगातार तीसरी बार इसी परीक्षा केंद्र पर नकल की पुष्टि होने के बाद यूनिवर्सिटी प्रशासन ने एक बार फिर सख्ती करने की बातें दोहराई।

आब्जर्वर नियुक्त करने के आदेश

केंद्र पर सामूहिक नकल की सूचना और फ्लाइंग स्क्वायड की रिपोर्ट के बाद परीक्षा विभाग ने इस केंद्र पर आब्जर्वर नियुक्त करने के आदेश दिए हैं। अब बाकि सभी परीक्षाएं अब इन्हीं ऑब्र्जवर की निगरानी में होगी। जो सेंटर पर परीक्षा से पहले सभी छात्रों की सघनता से जांच करने के बाद ही उन्हें प्रवेश देगा।

आगे की स्लाइड में पढ़ें पूरी खबर ...

​बोल-बोल कर करवाई जा रही थी नकल

राजधानी के चिनहट एरिया स्थित ​​सिटी लॉ कॉलेज काे यूनिवर्सिटी के छापेमारी दस्‍ते ने संदिग्‍ध सेंटर मानकर इसे सेमेस्‍टर परीक्षाओं में सेंटर न बनाने की अपील की थी। लेकिन कॉलेज के मालिक विनोद श्रीवास्‍तव पर आरोप है कि उन्होंने अधिकारियों से सांठ-गांठ कर अपने कॉलेज को दोबारा सेंटर बनवा लिया। इसके बाद सेमेस्‍टर परीक्षाओं में लगातार तीसरी बार यहां बड़ी संख्‍या में नकलची पकड़े गए। सूत्रों ने बताया कि टीचर यहां बोल-बोल कर स्‍टूडेंटस को नकल करवा रहे थे। मौके से 6 स्टू्डेंटस को किताब से नकल करते हुए पकड़ा।

​​छात्रों के पास से मिले पर्चे

फ्लाइंग स्क्वायड जब सुबह की पहली पाली केंद्र पर पहुंचा तो परिसर के अंदर अफरातफरी का माहौल था। फ्लाइंग स्क्वायड जैसे ही कमरे में प्रवेश की तो एग्जाम दे रहे छात्रों ने गेट की तरफ पर्चियां फेंकना शुरू कर दिया। जिसके बाद टीम ने पर्चियों से छात्र की कॉपियां मिलाना शुरू किया। इस दौरान तो पहली पाली में ​लॉ थर्ड सेमेस्‍टर के 6 छात्र नकल सामग्री के माध्यम से पेपर देते हुए पाए गए। छात्र परीक्षा केंद्र में एक-दूसरे के काफी पास बैठे थे। स्टूडेंट्स बोलकर एक-दूसरे को नकल कराने के साथ नकल सामग्री का भी प्रयोग कर रहे थे। ​इस शिफ्ट में फ्लाइंग स्क्वायड ने छह नकलियों ​को ​पकड़ा।

'आब्जर्वर की ​न‍ि​गरानी में होगा पेपर'​​

इस मुद्दे पर एलयू के एक्जामिनेशन कंट्रोलर प्रोफेसर एसी शर्मा ने बताया 'सामूहिक नकल की पुष्टि हुई है। कुछ कॉलेजों के छात्र लगातार नकल करने और रोकने पर हंगामा कर रहे हैं। ऐसे में अब आब्जर्वर की निगरानी में यहां एग्जाम करवाया जाएगा​। ​हमारी सारी फ्लाइंग स्‍कवायड टीमें सक्रिय हैं और हम नकल करने और कराने वालों से सख्‍ती से निपटेंगे।'

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story