ए.डी.आर: सभी दलों ने करोड़ उम्मीदवारों पर रखा विश्वास

उत्तर प्रदेश इलेक्शन वाॅच और एसोसिएशन फाॅर डेमोक्रेटिक रिर्मोेम्स ने उत्तर प्रदेश लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 96 उम्मीदवारों के शपथपत्रों का विश्लेषण किया, जो प्रथम चरण के सहानपुर, कैराना, मुजफ्रफरनगर, बिजनौर, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद, गौतम बुद्ध नगर निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे है।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश इलेक्शन वाॅच और एसोसिएशन फाॅर डेमोक्रेटिक रिर्मोेम्स ने उत्तर प्रदेश लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 96 उम्मीदवारों के शपथपत्रों का विश्लेषण किया, जो प्रथम चरण के सहानपुर, कैराना, मुजफ्रफरनगर, बिजनौर, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद, गौतम बुद्ध नगर निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे है।

यूपी एलेक्शन वॉच की लोकसभा चुनाव के प्रथम चरण की रिपोर्ट के सन्दर्भ में स्टेट हेड डॉक्टर संजय सिंह रविवार को एक होटल में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि अगर हम आपराधिक मामले की बात करे तो 96 में से 24 उम्मीदवारों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किये है। जबकि गंभीर आपराधिक मामले की सख्या 17 (18 प्रतिशत) है।

यह भी देखें:-अखिलेश का मोदी-योगी पर तंज- गंगा गए गंगा दास, यमुना गए यमुना दास

उन्होंने बताया कि इसी तरह हम करोड़पति उम्मदीवार की बात करे तो 96 में से 39 (41 प्रतिशत) उम्मीदवारों की संपत्ति एक करोड़ और इससे ज्यादा है। जिसमें BJP, INC, BSP (100 प्रतिशत) के सभी उम्मीदवार करोड़पति है। जिसमें सबसे ज्यादा संपत्ति बिजनौर के मालूक नगर की 2,49,96,28,021 बताई है। इसी तरह औसतन संपत्ति के मामले में पहले चरण में उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति 5.56 करोड़ है। पहले चरण के मतदान में 40 उम्मीदवारों ने अपनी देनदारी घोषित की है। जिसमें सबसे ज्यादा बिजनौर के मालूक नगर जो बहुजन समाज पाटी से है उनके ऊपर सबसे ज्यादा 20,48,20,865 बताई है।

संजय सिंह ने बताया कि प्रथम चरण के आठ सीटों के 39 (41 प्रतिशत ) उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षिक योग्यता 8वीं और 12वीं के बीच घोषित की है। जबकि 45 (47 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षिक योग्यता स्नातक और इससे ज्यादा घोषित की है जब कि 2 उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षिक योग्यता असाक्षर और 4 उम्मीदवारो ने अपनी शैक्षिक योग्यता साक्षर घोषित की है।

यह भी देखें:-राजनीतिक और पुरानी रंजिश में BJP नेता के भाई की हत्या

उन्होंने बताया कि 3(3 प्रतिशत ) उम्मीदवारों ने अपना पैन विवरण घोषित नहीं किया है। उम्मीदवारों की आयु- 56 (58 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपनी आयु 25 से 50 वर्ष के बीच घोषित की है। जबकि 39 (41 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपनी आयु 51 से 80 वर्ष के बीच घोषित की है। जबकि 1 उम्मीदवार ने अपनी आयु ही घोषित नहीं की है।