लोकसभा चुनाव 2019 में रिकॉर्ड वोटिंग, जानिए कब-कब कितना हुआ मतदान

2019 के लोकसभा चुनाव के लिए वोटिंग हो चुकी है और 23 मई को परिणाम आएंगे। लेकिन इस बार एक बात खास रही। इस बार वोटिंग ने 2014 का रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है। इस बार पिछले चुनाव के मुकाबले 1.16 प्रतिशत वोटिंग ज्यादा हुई है।

नई दिल्ली: 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए वोटिंग हो चुकी है और 23 मई को परिणाम आएंगे। लेकिन इस बार एक बात खास रही। इस बार वोटिंग ने 2014 का रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है। इस बार पिछले चुनाव के मुकाबले 1.16 प्रतिशत वोटिंग ज्यादा हुई है। 2019 में 67.1% वोटिंग हुई है। हालांकि कुछ जगहों पर फिर से पोलिंग होनी है, उसके बाद यह आंकड़ा फिर से बदल सकता है।

यह भी पढ़ें…EVM पर देश भर में विपक्ष का बवाल, चुनाव आयोग ने हर सवाल का दिया जवाब

2014 में 543 लोकसभा सीटों का वोटिंग प्रतिशत 66.44 प्रतिशत था, जो इस बार की 542 लोकसभा सीटों के वोटिंग प्रतिशत से भी कम है। 2019 से पहले, 2014 में रिकॉर्ड वोटिंग दर्ज की गई थी।

पिछले 16 लोकसभा चुनावों में वोटिंग प्रतिशत कम-ज्यादा होता रहा है। 1951 में पहले चुनाव में वोटिंग प्रतिशत सबसे कम था, जो 45.67 प्रतिशत था। इसके बाद 1957 में 47.74 प्रतिशत, 1962 में 55.42 प्रतिशत, 1967 में 61.33 प्रतिशत (यह पहला चुनाव कांग्रेस ने इंदिरा गांधी के नेतृत्व में लड़ा) 1971 में 55.88 प्रतिशत, 1977 में 60.49 प्रतिशत, 1980 में 56.92 प्रतिशत, 1984-85 में 64.01 प्रतिशत, 1989 में 61.95 प्रतिशत, 1991-92 में 55.88 प्रतिशत, 1996 में 57.94 प्रतिशत, 1998 में 61.97 प्रतिशत, 1999 में 59.99 प्रतिशत, 2004 में 57.19 प्रतिशत, 2009 में 58.19 प्रतिशत और 2014 में 66.44 प्रतिशत वोटिंग हुई।

यह भी पढ़ें…यूएनएससी सदस्यों ने अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित किए जाने को बड़ी उपलब्धि बताया

चुनाव आधिकारियों का कहना है कि कुछ क्षेत्रों में कुछ बूथों पर फिर से चुनाव होना है, ऐसे में इस डेटा को अंतिम नहीं माना जा सकता है।