यूपी में बाबा योगी आदित्यनाथ की दहाड़ बोले-काँग्रेस पार्टी मुहनुचवा की तरह वोटकटवा

उन्होंने सपा-बसपा गठबंधन पर तंज कसते हुए कहा कि यह रिश्तेदारी लूट की रिश्तेदारी, दंगा कराने वाली, भ्रष्टाचारवाली, सुरक्षा में सेंध लगाने वाली रिश्तेदारी है। 

file photo

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ ने  कहा कि बुआ-बबुआ की जोड़ी सिर्फ 23 मई तक है, उसके बाद वे खुद एक दूसरे पर आरोप लगाएंगे। उन्होंने सपा-बसपा गठबंधन पर तंज कसते हुए कहा कि यह रिश्तेदारी लूट की रिश्तेदारी, दंगा कराने वाली, भ्रष्टाचारवाली, सुरक्षा में सेंध लगाने वाली रिश्तेदारी है।

मंगलवार को अंबेडकरनगर और बस्ती में जनसभाओं को संबोधित  योगी  ने कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि वह बच्चों को गालियां सिखाती हैं। कांग्रेस की महासचिव को बच्चों को अच्छे संस्कार सिखाने चाहिए, बड़ों का सम्मान करना सिखाना चाहिए। जिस उम्र में बच्चों को संस्कार सिखाने चाहिए, कांग्रेस की शहजादी उस उम्र में बच्चों को गाली सिखा रही हैं।

यह भी पढ़ें… अटलजी ज़िंदा होते तो मोदी को राजधर्म के बारे में बताते : प्रमोद तिवारी

योगी आदित्यनाथ ने ट्रिपल तलाक के मुद्दे पर विपक्ष को घेरते हुए कहा कि ट्रिपल तलाक से मुक्ति की बात पर कांग्रेस, सपा-बसपा विरोध करने पर उतारू है। उन्होंने कहा कि मुस्लिम महिलाओं को न्याय मिलना चाहिए। हम महिलाओं को न्याय दिलाने के लिए सख्त कानून बनाएंगे।

योगी  ने मायावती पर बाबा साहब आंबेडकर के नाम पर राजनीति करने का आरोप लगाया। योगी  ने कहा कि कांग्रेस पार्टी मुंह नुचवा की तरह वोट कटवा है।योगी ने कहा कि भीमराव आंबेडकर को जो लोग गाली देते थे मायावती उनके साथ मंच साझा कर रही हैं। आंबेडकर के लिए अपशब्द कहने वालों के लिए वोट मांगती हैं।

यह भी पढ़ें… इफ्तार के वक़्त खजूर ही क्यों खाते हैं? जानें इसके पीछे की वजह!!

योगी  ने समाजवादी पार्टी पर डॉ. राम मनोहर लोहिया के नाम पर राजनीति करने का आरोप भी लगाया। उन्होंने कहा कि लोहिया के नाम पर सपा के एक परिवार ने सबसे ज्यादा संपत्ति कमाई। राजनीति में परिवारवाद का लोहिया ने विरोध किया था लेकिन खुद सपा ही परिवारवादी पार्टी हो गई।