जनता को बेवकूफ बनाने के लिए कांग्रेस-आप एक-दूसरे पर कर रहे दोषारोपण: बीजेपी

लोकसभा चुनाव के लिए दिल्ली में आम आदमी पार्टी (आप) एवं कांग्रेस में गठबंधन को लेकर बनी असमंजस की स्थिति के बीच भाजपा ने मंगलवार को कहा कि जनता को बेवकूफ बनाने के लिए ये दोनों दल एक दूसरे पर दोषारोपण कर रहे हैं, लेकिन अंत में दोनों दिल्ली में मिलकर चुनाव लड़ेंगे।

भोपाल: लोकसभा चुनाव के लिए दिल्ली में आम आदमी पार्टी (आप) एवं कांग्रेस में गठबंधन को लेकर बनी असमंजस की स्थिति के बीच भाजपा ने मंगलवार को कहा कि जनता को बेवकूफ बनाने के लिए ये दोनों दल एक दूसरे पर दोषारोपण कर रहे हैं, लेकिन अंत में दोनों दिल्ली में मिलकर चुनाव लड़ेंगे। इसके आलवा, भाजपा ने दावा किया कि दिल्ली में सातों लोकसभा सीटें भाजपा भारी बहुमत से जीतेगी।

लोकसभा चुनाव के लिए मध्य प्रदेश के सह प्रभारी एवं दिल्ली भाजपा के पूर्व अध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने एक सवाल के जवाब में यहां सवाददाताओं से कहा, ‘‘मुझे लगता है कि जनता को बेवकूफ बनाने के लिए वे (कांग्रेस एवं आप) एक दूसरे के ऊपर दोषारोपण कर रहे हैं। अंत में दोनों मिलकर चुनाव लड़ेंगे।’’

यह भी पढ़ें…समलैंगिकों के नागरिक अधिकारों को लेकर उच्चतम न्यायालय में पुनर्विचार याचिका दायर

वर्ष 2013 एवं 14 में कांग्रेस के समर्थन से 48 दिन चली केजरीवाल के नेतृत्व वाली आप सरकार की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘पहले भी दिल्ली में कांग्रेस के समर्थन से आप सरकार बनी थी। दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने अपने बच्चों की कसम खाई थी और कहा था कि वह (केजरीवाल) कांग्रेस के साथ कभी सरकार नहीं बनाएंगे और बाद में सरकार बना दी।’’

यह भी पढ़ें…मल्हौर रेलवे ओवरब्रिज को 21 अप्रैल से जनता के लिए खोलने की तैयारी शुरू

उन्होंने कहा, ‘‘दिल्ली की जनता मूर्ख नहीं है। दिल्ली में सातों सीटें भाजपा भारी बहुमत से जीतेगी।’’केजरीवाल द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी विरोधी वोट बांटने के आरोप पर पूछे गये सवाल पर उन्होंने कहा, ‘‘मैं कह रहा हूं कि वे कुछ न कुछ आरोप लगाएंगे। कुछ न कुछ कहेंगे। केजरीवाल साहब जो भी बात करते हैं, स्क्रिप्ट लिखकर करते हैं। उनको पता होता है कि वह किसको संबोधित कर रहे हैं।’’

यह भी पढ़ें…गुलाम नबी आजाद ने कहा- मोदी के झूठ, फरेब BJP के डूबते जहाज को नहीं बचा सकते

उपाध्याय ने बताया कि केजरीवाल जानबूझकर इस तरह की बातें करते हैं और इस तरह की भाषा बोलते है।, जिससे उनको कोई लाभ मिल जाये। उन्होंने कहा, ‘‘मोदी को लगातार अपशब्द बोलना, ये उनके (केजरीवाल) राजनीतिक जीवन का एक हिस्सा है।’’

भाषा