लोकसभा चुनाव से पहले ही बीजेपी ने जीत लीं दो सीटें, अरुणाचल से आई है खुशखबरी

लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी को पूर्वोत्तर से बड़ी खुशी मिली है। अरुणाचल प्रदेश में बीजेपी ने बिना चुनाव लड़े ही दो सीटों पर कब्जा कर लिया है। आपको बता दें राज्य में लोकसभा के साथ ही विधान सभा के भी चुनाव होने हैं।

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी को पूर्वोत्तर से बड़ी खुशी मिली है। अरुणाचल प्रदेश में बीजेपी ने बिना चुनाव लड़े ही दो सीटों पर कब्जा कर लिया है। आपको बता दें राज्य में लोकसभा के साथ ही विधान सभा के भी चुनाव होने हैं।

अरुणाचल की दो विधानसभा सीटों पर बीजेपी के उम्मीदवार निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं।

ये भी पढ़ें— जयाप्रदा भाजपा में शामिल, रामपुर से आजम खान के खिलाफ मिल सकता है टिकट

प्रत्याशियों ने भरे गलत नामांकन, बीजेपी को मिला फायदा  

11 अप्रैल को होने वाले चुनाव के लिए नामांकन की अंतिम तारीख 25 मार्च थी। नामांकन के आखिरी दिन आलो सीट पर बीजेपी उम्मीदवार सर केंटो जिनी और याचुली सीट पर इंजीनियर ताबा तेदीर के सामने कोई भी वैध प्रत्याशी नहीं था। दोनों ही सीटों पर अन्य प्रत्याशियों ने गलत नामांकन पत्र दाखिल किया था।

क्या कहा चुनाव अधिकारी ने

चुनाव अधिकारी ने कहा, नामांकन तिथि निकलने के बाद सामने आया कि इन दोनों ही उम्मीदवारों के सामने कोई भी वैध प्रत्याशी नहीं था। ऐसे में ये निर्विरोध चुने जाएंगे।

ये भी देखें : भारत में धर्म और जाति के आधार पर हमले देश की महानता पर कलंक: जमीयत उलेमा-ए-हिंद

इस सीट पर बदलेगा इतिहास

भारत-चीन सीमा से लगी मुक्तो सीट से मौजूदा विधायक राज्य के सीएम पेमा खांडू हैं। इस विधानसभा सीट पर 1999 से बिना मुकाबले विधायक चुनकर आते रहे हैं। लेकिन इसबार यहां मुकाबला जोरदार होगा। सीएम के पिता दोरजी यहां से विधायक चुने जाते रहे थे।

ये भी देखें : कांग्रेस के इस प्रत्याशी की पांच साल में घट गई तीन गुणा संपत्ति

कांग्रेस- थुप्तेन कुनफेन

जनता दल सेक्युलर- लामा लोबसांग ग्यात्सो

प्रदेश की 60 विधानसभा सीटों और दो लोकसभा सीटों पर एक साथ 11 अप्रैल को चुनाव होंगे।