कांग्रेस को वोट देने से आकंतवाद, और अलगाववादी शक्तियों को मजबूती मिलेगी: योगी

योगी ने टीआरएस सरकार द्वारा मुसलमानों को 12 प्रतिशत आरक्षण देने के प्रस्ताव को ‘असंवैधानिक’ करार दिया। उन्होंने कहा, “…. मुसलमानों को आरक्षण संविधान के खिलाफ है। संविधान इसकी (मुसलमानों को आरक्षण) अनुमति नहीं देता।”

file photo

हैदराबाद: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कहा कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को दिया गया एक एक वोट आतंकवाद, नक्सलवाद और अलगाववादी ताकतों को मजबूत करेगा और विकास को बाधित करेगा।

इसी तरह, तेलंगाना में सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) को दिए गए वोटों से सहयोगी पार्टी एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी और उनके भाई के हाथ मजबूत होंगे।

उन्होंने कहा कि इसके विपरीत यदि मतदाताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा को चुना, तो उन्हें आश्वासन दिया जा सकता है कि पार्टी के नेतृत्व वाली सरकार देश का व्यापक विकास और समृद्धि सुनिश्चित करेगी और भारत को एक महाशक्ति के रूप में स्थापित करेगी।

ये भी पढ़ें— पाकिस्तान ने सद्भावना के तहत 100 भारतीय मछुआरों को किया रिहा

भाजपा के उम्मीदवार एस कुमार के समर्थन में पेद्दापल्ली में एक जनसभा को संबोधित करते हुए आदित्यनाथ ने कहा कि कांग्रेस और टीआरएस दोनों ‘राष्ट्र-विरोधियों’ के साथ हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि दोनों पार्टियां ऐसी गतिविधियों का समर्थन कर रही हैं जो राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरनाक हैं।

उन्होंने कहा, “हाल ही में जारी कांग्रेस घोषणापत्र इसे प्रमाणित करता है जबकि एआईएमआईएम अपने राष्ट्र विरोधी बयानों और कृत्यों के लिए जानी जाती है। उन्होंने कहा, इन सभी के साथ इन दोनों दलों का गठजोड़ तेलंगाना के साथ साथ देश की सुरक्षा के लिए एक गंभीर खतरा पैदा करेगा।”

उन्होंने पिछली कांग्रेस नीत संप्रग सरकार पर आतंकवादियों को “बिरयानी परोसने” का आरोप लगाया और कहा कि मोदी सरकार ने आतंकी हमलों से गोलियों से निपटने का संकल्प दिखाया है।

ये भी पढ़ें— Election: नए नारे ‘अब होगा न्याय’ के सहारे ‘दिल जीतेगी’ कांग्रेस

उन्होंने कहा, “भाजपा नेतृत्व ने दिखाया है कि केवल गोलियां ही आतंकवादियों का जवाब हो सकती हैं।” आदित्यनाथ ने यह आरोप भी लगाया कि यूपीए सरकार सशस्त्र बलों को कार्रवाई करने (आतंकवादियों के खिलाफ) की अनुमति नहीं देकर विफल रही। उन्होंने कहा कि वैज्ञानिकों के हाथ ‘बंधे’ थे। इसके विपरीत मोदी सरकार में उन्होंने ए-सेट विकसित कर अपना कौशल दिखाया।

योगी ने कहा कि जनता इस बात से अवगत है कि भाजपा ने देश का कद और गौरव बढ़ाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि सभी लोग सर्जिकल स्ट्राइक (उरी आतंकी हमले के बाद) और बालाकोट हवाई हमले (पुलवामा आतंकी हमले के बाद) कर दुश्मनों को मुंहतोड़ जवाब देने के बारे में जानते हैं।

योगी ने टीआरएस-एआईएमआईएम के गठजोड़ पर हमला करते हुए कहा कि इनके पांच साल के शासन को देखने के बाद ऐसा लगता है कि टीआरएस फिर से तेलंगाना में ‘निजामशाही’ (निजाम का शासन) स्थापित करना चाहती है और लोगों को फिर से “गुलाम” बनाना चाहती है।

ये भी पढ़ें— मैंने हमेशा मुश्किल डगर ही चुनी: दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ

उन्होंने कहा कि किसी भी हालत में टीआरएस की इस ‘साजिश’ को सफल नहीं होने दिया जाना चाहिए, उन्होंने कहा कि बीजेपी यह सुनिश्चित करेगी कि वह असामाजिक, राष्ट्रविरोधी और विकास विरोधी गतिविधियों से सख्ती से निपटे और आम लोगों के जीवन में समृद्धि लाए और उनके रहन सहन के स्तर में सुधार हो।

योगी ने टीआरएस सरकार द्वारा मुसलमानों को 12 प्रतिशत आरक्षण देने के प्रस्ताव को ‘असंवैधानिक’ करार दिया। उन्होंने कहा, “…. मुसलमानों को आरक्षण संविधान के खिलाफ है। संविधान इसकी (मुसलमानों को आरक्षण) अनुमति नहीं देता।”

(भाषा)

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App