कांग्रेस का जन आवाज घोषणा पत्र जारी, जानिए खास बातें

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी और पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने 2019 लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस का घोषणापत्र जारी किया। इसके लिए 24 अकबर रोड पर स्थित पार्टी मुख्यालय में एक बड़ा आयोजन किया जा रहा है।

Published by Aditya Mishra Published: April 2, 2019 | 10:18 am
Modified: April 2, 2019 | 1:30 pm
फ़ाइल फोटो

फ़ाइल फोटो

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी और पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने 2019 लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस का घोषणापत्र जारी किया। इसके लिए 24 अकबर रोड पर स्थित पार्टी मुख्यालय में एक बड़ा आयोजन किया जा रहा है।

ये भी पढ़ें…नमो चैनल के प्रसारण पर फौरन रोक लगाये चुनाव आयोग: कांग्रेस

क्या कहा राहुल ने 

सबलोग हिंदू हैं। मगर देश में रोजगार की जरूरत है। देश में किसानों की जरूरत है। देश में न्याय की जरूरत है। महिलाओं की देखभाल करने और उनको आरक्षण देने की जरूरत है। नरेंद्र मोदी छिप रहे हैं, वह डरे हुए हैं : राहुल गांधी

मोदी सच्चा डिबेट नहीं करना चाहते हैं। भ्रष्टाचार, राष्ट्रीय सुरक्षा पर मोदी मुझसे डिबेट करें। चुनौती देता हूं विदेश नीति, भ्रष्टाचार पर पीएम मोदी मुझसे डिबेट करें: राहुल गांधी

दक्षिण भारत से मांग थी। मैं दक्षिण भारत को एक संदेश देना चाहता था कि मैं आपके साथ हूं। इसलिए मैं वायनाड से चुनाव लड़ने का फैसला किया: राहुल गांधी

कांग्रेस के घोषणापत्र में आपके मन की बात है, हमारे मन की बात नहीं है: राहुल गांधी

बीजेपी ने कहा था कि किसान का कर्ज माफ करना संभव नहीं। न्याय योजना बीजेपी के लिए संभव नहीं है। मगर कांग्रेस ऐसा करेगी। हमने एमपी, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में कहा था कि किसानों का कर्जा माफ करेंगे, हमने कर दिया। हमपर भरोसा करिए। हम 72000 रुपये गरीबों के खाते में देंगे : राहुल गांधी

गब्बर सिंह टैक्स को हम जीएसटी में बदलेंगे। हम सिंपल टैक्स देंगे। कम से कम टैक्स होगा। सरल सिंपल टैक्स होगा। कांग्रेस ने घोषणापत्र में इसका जिक्र किया है: राहुल गांधी

नरेंद्र मोदी ने अच्छे दिन का वादा किया था लेकिन सच्चाई ये है कि चौकीदार ने चोरी करवाई है। चौकीदार छिप सकता है, लेकिन भाग नहीं सकता है: राहुल गांधी

मैं तो अपना काम कर रहा हूं। प्रधानमंत्री बनाना देश की जनता का काम है, ये तो वही तय करेगी : राहुल गांधी

कांग्रेस ने अपनी घोषणापत्र में पांच मुख्य मुद्दों का जिक्र किया। न्याय, रोजगार, हेल्थ, शिक्षा और किसान कांग्रेस के घोषणापत्र का मुख्य बिंदु है। राहुल गांधी ने घोषणापत्र जारी करते हुए कहा कि उनकी सरकार आने पर कांग्रेस गरीबों के खाते में हर साल 72000 हजार रुपये डालेगी : राहुल गांधी

कांग्रेस पार्टी देश को जोड़ने का काम करेगी। नैशनल और इंटरनल पॉलिसी पर हमारा सबसे ज्यादा जोर रहेगा: राहुल गांधी

गरीब से गरीब व्यक्ति को सबसे बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मिले इसकी भी व्यवस्था की जाएगी। कांग्रेस की सरकार आने पर: राहुल गांधी

घोषणापत्र में शिक्षा में जीडीपी की 6 प्रतिशत पैसा देश की शिक्षा में दिया जाए: राहुल गांधी

किसान की बात भी हमारे घोषणापत्र की बड़ी थीम है। एक अलग किसान बजट होना चाहिए। देश के किसान को मालूम होना चाहिए कि उसको कितना पैसा मिल रहा है, उसकी एमएसपी कितना बढ़ाई जा रही है। घोषणापत्र में हमने निर्णय लिया है कि किसान अगर कर्जा न दे पाए तो वह आपराधिक मामला नहीं हो बल्कि वह सिविल मामला हो: : राहुल गांधी

मनरेगा को 150 दिन गारंटीड करना चाहते हैं। हम मनरेगा के 100 दिन बढ़ाकर 150 करना चाहते हैं: राहुल गांधी

हमारा दूसरा थीम रोजगार है। देश में युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है। दो करोड़ रोजगार नहीं मिले। 22 लाख सरकारी रोजगार, उनको कांग्रेस मार्च 2020 तक भरकर दे देगी। 10 लाख युवाओं को ग्राम पंचायत में रोजगार देगी। तीन साल के लिए देश के युवाओं को बिजनस खोलने के लिए किसी से कोई इजाजत नहीं लेनी होगी: राहुल गांधी

एक साल में 72 हजार, 5 साल में 3.60 लाख। किसानों और गरीबों की जेब में सीधा पैसा जाएगा। पीएम नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी करके देश की अर्थव्यवस्था को जाम किया, वह इससे खत्म हो जाएगा: राहुल गांधी

‘हम निभाएंगे’ वाले कांग्रेस के घोषणापत्र में 5 मुख्य बिंदु हैं : राहुल गांधी

72,000 रुपये हर साल हम देश की जनता के खाते में डाल सकते हैं। गरीबी पर वार हर साल 72 हजार: राहुल गांधी

कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र की थीम को ‘हम निभाएंगे’ रखा है।

घोषणापत्र में 5 मेन थीम है। न्याय का थीम सबसे पहला थीम है : राहुल गांधी

घोषणापत्र में भी जो हो वह सच हो, उसे लागू किया जा सके। आज हमारे पीएम द्वारा सैकड़ों झूठ बोले जा रहे हैं। घोषणापत्र में हम लोगों से संबंधित योजनाओं को लागू करेंगे। जब हम ‘न्याय’ के बारे में बोलते हैं तो जनता से रिस्पॉन्स मिलता है: राहुल गांधी

यह घोषणापत्र कांग्रेस पार्टी का एक बड़ा कदम है। जब हमने एक साल पहले इसके लिए प्रक्रिया की शुरुआत की थी। हमने पी चिदंबरम और राजीव गौड़ा से कहा था कि यह घोषणापत्र देश की जनता की राय होनी चाहिए: राहुल गांधी

कांग्रेस ने घोषणापत्र का नाम ‘जन घोषणापत्र’ का नाम दिया है।

ये भी पढ़ें…कांग्रेस के नौ उम्मीदवार घोषित, खेल मंत्री राज्यवर्धन को टक्कर देंगी कृष्णा पूनिया

क्या बोले पूर्व पीएम मनमोहन सिंह

दलित, पिछड़े, दलित, अल्पसंख्यक सभी का इस घोषणापत्र में ख्याल रखा गया है। कांग्रेस कार्यकर्ता इस घोषणापत्र के बारे में लोगों को बताएं। बीजेपी राज में किसानों, विदेशी संबंधों, आर्थिक मोर्चे पर असफलता के बारे में लोगों को बताने की जरूरत है: पूर्व पीएम मनमोहन सिंह

घोषणापत्र की चर्चा पूरे देश में होगी। देश का आगे बढ़ाने के लिए हमने यह घोषणापत्र तैयार किया है: पूर्व पीएम मनमोहन सिंह

हम भारत को एक संपन्न देश बनाना चाहते हैं। घोषणापत्र में शामिल मुद्दे देश के संपन्न बनाने के लिए हैं: पूर्व पीएम मनमोहन सिंह