मतदाताओं की प्राथमिकताओं की सूची में रोजगार के अवसर शीर्ष पर: एडीआर

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की ओर से किए गए राष्ट्रीय सर्वेक्षण में दावा किया गया कि रोजगार के बेहतर मौके, स्वास्थ्य सुविधाएं और पेयजल उन तीन शीर्ष मुद्दों में शामिल हैं जिन पर मतदाता चाहते हैं कि सरकार काम करे।

नई दिल्ली : एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की ओर से किए गए राष्ट्रीय सर्वेक्षण में दावा किया गया कि रोजगार के बेहतर मौके, स्वास्थ्य सुविधाएं और पेयजल उन तीन शीर्ष मुद्दों में शामिल हैं जिन पर मतदाता चाहते हैं कि सरकार काम करे।

ये भी देखें : 7वां चरण सबसे खतरनाक: 59 सीटों में से 33 सीटों पर रेड अलर्ट

image.png

नेशनल इलेक्शन वॉच, एडीआर के संस्थापक सदस्य जगदीप छोकर ने कहा कि अक्टूबर से दिसंबर 2018 के बीच किए गए सर्वेक्षण के मुताबिक सरकार के प्रदर्शन को “औसत से नीचे” बताया गया है। सर्वेक्षण में 534 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों को शामिल किया गया। इसमें 2,73,487 मतदाताओं ने हिस्सा लिया था।

ये भी देखें : लोकसभा चुनाव : 355 मौजूदा सांसदों की औसत संपत्ति 5 साल में 41% बढ़ी

 

image.png

इस सर्वेक्षण में जनसांख्यिकी संबंधी कई मुद्दों को शामिल किया गया जैसे शासन के विशिष्ट मुद्दों पर मतदाताओं की प्राथमिकताएं, उन मुद्दों पर सरकार के प्रदर्शन पर मतदाताओं की रेटिंग और मतदान को प्रभावित करने वाले कारक शामिल थे।

सर्वेक्षण में राष्ट्रीय सुरक्षा कोई मुद्दा था या नहीं, यह पूछने पर छोकर ने कहा, “आतंकवाद सूचीबद्ध किए गए 31 मुद्दों में से एक था और यह सर्वेक्षण में 30वें स्थान पर था।”