पश्चिम बंगाल के राज्यपाल को शंका सातवें चरण में भी होगी हिंसा

पश्चिम बंगाल में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड़शो के दौरान हुई हिंसा को लेकर राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी ने गृह मंत्रालय और चुनाव आयोग को रिपोर्ट भेजी है। उन्होंने अपनी रिपोर्ट में पिछले छह चरणों में लगातार हुई हिंसा को लेकर आशंका जताई है कि सातवें चरण पर भी इसका प्रभाव पड़ सकता है।

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड़शो के दौरान हुई हिंसा को लेकर राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी ने गृह मंत्रालय और चुनाव आयोग को रिपोर्ट भेजी है। उन्होंने अपनी रिपोर्ट में पिछले छह चरणों में लगातार हुई हिंसा को लेकर आशंका जताई है कि सातवें चरण पर भी इसका प्रभाव पड़ सकता है।

ये भी देंखे:विंग कमांडर अभिनंदन की यूनिट को ‘फाल्कन स्लेयर्स’ पट्टियों से नवाजा गया

आपको बता दें, मंगलवार को अमित शाह के रोड़ शो के दौरान जमकर बलवा हुआ। जिसके बाद सत्ताधारी टीएमसी और बीजेपी ने एक दूसरे पर हिंसा भड़काने के आरोप लगाए।

बुधवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को शहर में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोडशो के दौरान हिंसा और तोड़फोड़ के खिलाफ मार्च निकाला।

ये भी देंखे:चुनाव आयोग का ट्विटर को आदेश, एक्ज़िट पोल से जुडे ट्वीट तुरंत हटाए

शहर के प्रमुख बुद्धिजीवियों के साथ ममता ने बेलाघाटा में गांधी भवन से मार्च निकाला और लगभग 6 किमी की दूरी तय करके शहर के उत्तरी हिस्से में श्यामबाजार फाइव-प्वाइंट क्रॉसिंग तक पहुंची।