अगर काम बोलता था क्यों करना पड़ा सपा को बसपा से गठबंधन: केशव मौर्य

डिप्टी सीएम ने कहा कि पहले सेना पर हमले होने के बाद किसी तरह की छूट नहीं थी। पहले मौनी बाबा के पास सेना के लोग फोन करते थे तो वह कहते थे कि पहले हम अमेरिका से पूछ ले, अब ऐसा नहीं है।

लखनऊ: प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस का अस्तित्व बिल्कुल ही नहीं है। प्रियंका गांधी अब भविष्य में कांग्रेस का अध्यक्ष बनने के लिए चुनाव प्रचार कर रही है। वह यूपी में अपनी पार्टी को जिताने के लिए नहीं आई है बल्कि अपनी वैल्यू बढ़ाने आई है।

बुधवार को विजय संकल्प रैली में कहा कि यूपी में पिछले दो साल से बुरे दिन चले गए है। पिछले 15 साल तक हमारी यूपी की जनता ने जो दंश झेला उसका बदला 2017 में कमल का फूल उत्तरप्रदेश में खिलाकर पूरा किया। अगर बीजेपी सरकार बनती है तो आपकी आने वाली दस पीढ़ी को सुधारने का काम करेंगे।

ये भी पढ़ें— माया-अखिलेश ने लगाया भाजपा पर सत्ता के दुरूपयोग का आरोप

उन्होंने कहा कि पिछले पांच सालों में मोदी जी ने 60 साल के बराबर काम किया है और आगे 100 साल के बराबर काम करेंगे। अखिलेश यादव कहते हैं कि उनका काम बोलता है। अगर इनका काम बोल रहा था तो फिर आखिर क्यों इन्होंने गठबंधन किया।उन्होंने कहा कि एक ने अपने पिता मुलायम सिंह यादव और एक ने अपने गुरु कांशीराम का अपमान किया है। इन लोगों को जनता माफ नहीं करने वाली है। उन्होंने कहा कि इन लोगों का गठबंधन पूरी तरह से विफल रहने वाला है। उन्होंने कहा कि सपा और बसपा भरोसे की पार्टियां नहीं है।

सपा वाले बसपा को छोटा करना चाहते हैं और बसपा वाले सपा को छोटा करना चाहते हैं। ये दोनों ही आपस में खींचातनी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मायावती चाहती है कि अखिलेश न बढ़ पाएं और मायावती चाहती है कि अखिलेश न बढने पाए। इस बार फिर से यह लोग केंद्र में सरकार बनाने का सपना देख रहे हैं। यह लोग भले ही सपना देख रहे हो लेकिन जनता ने शोषण का बदला लिया है। उन्होंने कहा कि 2017 में मायावती यूपी में सत्ता बनाने का ख्वाब देख रही थी, लेकिन महज 19 सीटों पर रह गई। जनता सब समझ रही है जनता ने इन्हें दूध की मक्खी की तरह बाहर फेंकने का काम किया है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने किसानों और गरीबों का अच्छी तरह से ख्याल रखा है।

ये भी पढ़ें— अरे भाई! ये कैसा हाॅस्पीटल है जहां डाॅक्टर गए हैं चुनाव प्रचार में, आइए देखिए

उन्होंने कहा कि कभी मेरा भी मकान कच्चा था और बारिश के समय में क्या दिक्कत होती है उसको गरीब घर से प्रधानमंत्री बनने वाले मोदी जी जानते हैं, इसलिए उन्होंने संकल्प किया है कि 2022 तक हर गरीब को पक्की छत मिलेगी। उन्होंने कहा कि मोदी जी गरीबी मिटाना चाहते हैं, लेकिन विपक्षी लोग चाहते हैं कि देश में गरीबी बनी रहे। इन लोगों को मालूम है कि जब तक देश में गरीबी रहेगी तब तक कांग्रेस और गठबंधन की दुकान चलेगी। उन्होंने कहा कि सपा और बसपा को मालूम है जब तक प्रदेश में गरीबी रहेगी और जातीय समीकरण रहेगा, तब तक इनकी दुकान चलती रहेगी।

उन्होंने कहा कि यह ऐसी पार्टी है, यहां पर किसी भी सामान्य कार्यकर्ता को बड़े पदों पर बैठाया जा सकता है। उन्होंने स्वयं का उदाहरण देते हुए कहा कि मैं भी एक साधारण कार्यकर्ता रहा हूं और पार्टी ने मुझे उत्तर प्रदेश का उपमुख्यमंत्री तक बनाया है। यह ऐसी पार्टी है जो कि अपने साधारण कार्यकर्ता को देश का पहला नागरिक अर्थात् राष्ट्रपति तक बना सकती है।

ये भी पढ़ें— प्रियंका के रोड शो में कांग्रेस विरोधी नारा लगाना BJP समर्थकों को पड़ा महंगा, पीटे गए

मौर्य ने कहा कि यह ऐसी पार्टी जहां पर हर व्यक्ति का ध्यान में रखा गया है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि आप लोग 19 मई तक इतनी मेहनत कीजिएगा कि एक भी वोट कांग्रेस और गठबंधन को न जाने पाए। इस बार इनकी यहां से जमानत जब्त होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जनता के बीच में जाकर बताइए कि सबका साथ-सबका विकास किया है।

डिप्टी सीएम ने कहा कि पहले सेना पर हमले होने के बाद किसी तरह की छूट नहीं थी। पहले मौनी बाबा के पास सेना के लोग फोन करते थे तो वह कहते थे कि पहले हम अमेरिका से पूछ ले, अब ऐसा नहीं है। मोदी जी ने कह रखा है कि पहले गोली मत चलाना लेकिन अगर कोई गोली चलाए तो फिर गोली का जवाब गोला के रूप में देने का काम करना।

ये भी पढ़ें— प. बंगाल हिंसा पर चुनाव आयोग सख्त, चुनाव प्रचार का एक दिन कम किया

उन्होंने कहा कि पिछले पांच सालों में जनता ने यह जाना आखिर सेना की स्ट्राइक क्या होती है। उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान की सेना ने पहले सर्जिकल स्ट्राइक और फरवरी में एयरस्ट्राइक करके साबित कर दिया है कि अगर हमें कोई आंख दिखाएगा तो हम उसको जवाब देने का काम करेंगे। उन्होंने कहा कि यह सब मोदी जी की वजह से ही संभव हुआ है।

यही नहीं मोदी जी ने बालाकोट हमले के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित कराकर एक-एक आतंकवादियों को सबक सिखाने का काम किया है। मोदी जी का सिद्धांत है कि वह किसी को छेड़ते नहीं, लेकिन जो छेड़ते है फिर उसको छोड़ते भी नहीं हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार उसी पाकिस्तान का हाथ मजबूत करने में जुटी हुई हैं।