लोकसभा चुनाव: भड़काऊ भाषण को लेकर उप्र में अब तक 939 मामले दर्ज

लोकसभा चुनाव के दौरान नेताओं द्वारा आपत्तिजनक एवं भड़काऊ भाषण देने के आरोप में उत्तर प्रदेश में अब तक 939 मामले दर्ज किए गए हैं। इसके अलावा सूबे में अब तक कुल 166.61 करोड़ रुपये की विभिन्न सामग्री व नकदी जब्त की गई है। चुनाव के दौरान वाहनों, बिना अनुमति चुनावी सभा, लाउडस्पीकर एवं उत्तेजनात्मक भाषण तथा प्रलोभन आदि के 3,191 मामले प्रकाश में आये, जिसमें 939 प्रकरणों में एफआईआर दर्ज करायी गयी है। 

लखनऊ: लोकसभा चुनाव के दौरान नेताओं द्वारा आपत्तिजनक एवं भड़काऊ भाषण देने के आरोप में उत्तर प्रदेश में अब तक 939 मामले दर्ज किए गए हैं। इसके अलावा सूबे में अब तक कुल 166.61 करोड़ रुपये की विभिन्न सामग्री व नकदी जब्त की गई है। चुनाव के दौरान वाहनों, बिना अनुमति चुनावी सभा, लाउडस्पीकर एवं उत्तेजनात्मक भाषण तथा प्रलोभन आदि के 3,191 मामले प्रकाश में आये, जिसमें 939 प्रकरणों में एफआईआर दर्ज करायी गयी है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने एल.वेंकटेश्वर लू ने बताया कि आदर्श आचार संहिता के अनुपालन में प्रचार सामग्रियों को हटाने के लिए चलाये जा रहे अभियान के तहत अब तक कुल 44,86,114 वाॅल राइटिंग, पोस्टर्स, बैनर्स आदि सार्वजनिक एवं निजी स्थानों से हटा दिये गये हैं या ढक दिये गये हैं।

यह भी देखें:-छत्तीसगढ़ में सड़क नहीं बनने से नाराज ग्रामीण, मतदान के बहिष्कार का फैसला

उन्होंने बताया कि पूरे प्रदेश में जिला प्रशासन द्वारा अब तक सार्वजनिक स्थानों से वाॅल राइटिंग के 2,26,927, पोस्टर्स के 18,33,496, बैनर्स के 6,75,227 तथा अन्य मामलों के 9,13,706 प्रचार-प्रसार से सम्बन्धित सामग्रियों को हटा दिया गया है। इसी तरह से निजी स्थानों से वाॅल राइटिंग के 1,04,088, पोस्टर्स के 3,64,140, बैनर्स के 2,17,884 तथा अन्य मामलों के 1,50,646 प्रचार-प्रसार से सम्बन्धित सामग्री हटा दिये गये हैं।

एल. वेंकटेश्वर लू ने बताया कि आयकर, नारकोटिक्स, पुलिस तथा आबकारी द्वारा की गयी कार्यवाही में अब तक कुल 166.61 करोड़ रुपये की जब्ती की गई है, जिसमें पुलिस एवं आयकर विभाग द्वारा 37.68 करोड़ रूपये की नगदी तथा नारकोटिक्स एवं पुलिस द्वारा कुल 19.53 करोड़ रुपये मूल्य की गांजा, स्मैक, चरस आदि की जब्ती की गई। इसके अलावा 68.69 करोड़ मूल्य की बहुमूल्य धातुएं सोना चाँदी आदि जब्त की गई है। आबकारी विभाग द्वारा 40.71 करोड़ रूपये मूल्य की 14,64,139 लीटर मदिरा जब्त की गई है।

यह भी देखें:-अहिंसा को अपनाओ, जियो और जीने दो का संदेश दिया था महावीर स्वामी ने

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि कानून व्यवस्था के तहत अब तक 8,40,399 लाइसेन्सी शस्त्र जमा कराये गये हैं तथा 897 लोगों के शस्त्र लाइसेन्स निरस्त किये गये हैं। इसके अलावा निरोधात्मक कार्यवाही के तहत 20,66,811 लोगों को पाबन्द किया गया है तथा 26,413 लोगों पर गैर जमानती वारन्ट तामिला कराया गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब तक 6517.95 किलोग्राम विस्फोटक सामग्री, 11,541 कारतूस, 4,146 बम बरामद किये गये हैं।

गौरतलब है कि चुनाव प्रचार के दौरान नेताओं के आपत्तिजनक एवं भड़काऊ भाषण को लेकर उप्र की चुनावी सियासत इस समय गरमा गई है। निर्वाचन आयोग ने उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बसपा सुप्रीमो व सूबे की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के खिलाफ इस मामले में कड़ी कार्रवाई की है। आयोग ने मुख्यमंत्री योगी के 72 घंटे तक चुनाव प्रचार पर रोक लगा दी है और मायावती को 48 घंटे तक प्रचार करने पर प्रतिबंधित कर दिया है। दोनों नेताओं पर यह प्रतिबंध मंगलवार सुबह छह बजे से लागू होगा।

यह भी देखें:-छह साल बाद पुलिस के हत्थे चढ़ा डिप्टी जेलर अनिल त्यागी का हत्यारा

आपत्तिजनक बयानों को लेकर सपा नेता मो. आजम खां के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग हो रही है। पिछले लोकसभा चुनाव में आपत्तिजनक बयानों के आरोप में ही चुनाव आयोग ने आजम के प्रचार अभियान को प्रतिबंधित कर दिया था।