ममता ने PM मोदी से कहा, आरोप साबित करो, नहीं तो भेजूंगी जेल

लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण में पश्चिम बंगाल में सियासी जंग तेज हो गई। बीजेपी और तृणमूल एक दूसरे पर तीखा हमला बोल रहे हैं। बीजेपी और टीएमसी के बीच लड़ाई उठक-बैठक कराने और जेल भेजने तक पहुंच गई है।

कोलकाता: लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण में पश्चिम बंगाल में सियासी जंग तेज हो गई। बीजेपी और तृणमूल एक दूसरे पर तीखा हमला बोल रहे हैं। बीजेपी और टीएमसी के बीच लड़ाई उठक-बैठक कराने और जेल भेजने तक पहुंच गई है।

पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार के आखिरी दिन मथुरापुर की रैली में टीएमसी अध्यक्ष ममता बनर्जी ने पीएम मोदी पर तीखा हमला बोला। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इतना झूठ बोलने के लिए उठक-बैठक करनी चाहिए। उन्होंने चुनाव आयोग को बीजेपी का भाई बताते हुए चुनौती दी कि वह इसके लिए जेल जाने को भी तैयार हैं। साथ ही अमित शाह और पीएम मोदी को जेल भेजने की धमकी दी।

यह भी पढ़ें…चुनाव आयोग अपनी स्वतंत्रता खो चुका है, नियुक्ति प्रक्रिया की समीक्षा हो: कांग्रेस

ममता ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा, ‘उन्होंने (पीएम मोदी) ने कहा कि वह विद्यासागर की मूर्ति बनवाएंगे। बंगाल के पास मूर्ति बनाने के पैसे हैं। क्या वह 200 साल पुराना हेरिटेज लौटा सकते हैं? हमारे पास सबूत है और आप कह रहे हैं कि टीएमसी ने किया है। क्या आपको शर्म नहीं आती है? इतना झूठ बोलने के लिए उन्हें उठक-बैठक करनी चाहिए। आरोप साबित करिए नहीं तो मैं आपको जेल भेजूंगी।’

यह भी पढ़ें…UP: DIG होमगार्ड संतोष सिंह का निधन, पीजीआई में थे भर्ती

ममता बनर्जी ने रैली में कहा, ‘पिछली रात हमें मालूम चला कि बीजेपी ने चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज की थी ताकि नरेंद्र मोदी की रैली के बाद हम कोई रैली न कर सकें। चुनाव आयोग बीजेपी का भाई है, पहले यह निष्पक्ष था और अब देश में हर कोई कह रहा है कि चुनाव आयोग बीजेपी को बिक गया है।’