ओड़िशा: BJP ने दो लोकसभा सीटों और 9 विधानसभा सीटों के लिए उम्मीदवारों की घोषणा की

भाजपा ने सोमवार को ओड़िशा की दो लोकसभा सीटों और 9 विधानसभा सीटों के लिए अपने उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की। ओड़िशा में 11 अप्रैल और 29 अप्रैल के बीच चार चरणों में लोकसभा और विधानसभा के चुनाव होंगे।

भुवनेश्वर: भाजपा ने सोमवार को ओड़िशा की दो लोकसभा सीटों और 9 विधानसभा सीटों के लिए अपने उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की। ओड़िशा में 11 अप्रैल और 29 अप्रैल के बीच चार चरणों में लोकसभा और विधानसभा के चुनाव होंगे। रविवार को भाजपा में शामिल हुए ओड़िशा के पूर्व डीजीपी प्रकाश मिश्रा को कटक लोकसभा सीट जबकि पूर्व सांसद खारवेल स्वाइन, जिन्हें सोमवार की सुबह पार्टी में शामिल किया गया, उन्हें कंधमाल लोकसभा सीट से टिकट दिया गया। मिश्रा 2012 से 2014 तक राज्य के डीजीपी रहे हैं। वह 2014 और 2016 के बीच करीब दो साल तक सीआरपीएफ के महानिदेशक पद पर भी रहे।

यह भी पढ़ें…..लोक सभा चुनाव 2019: सुखराम वापस कांग्रेस की झोली में,पौत्र आश्रय शर्मा को मंडी से टिकट मिलना तय

भाजपा के एक सूत्र ने बताया कि मिश्रा ने दिल्ली में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं से हमेशा ‘अच्छे संबंध’ बनाकर रखे। बालासोर से तीन बार भाजपा के लोकसभा सदस्य रह चुके स्वाइन ने 2009 में पार्टी से इस्तीफा दे दिया था और उन्होंने ‘उत्कल भारत’ नाम का अपना एक अलग राजनीतिक संगठन बना लिया था। भाजपा के वरिष्ठ नेताओं से मतभेद के बाद स्वाइन ने पार्टी छोड़ी थी।

यह भी पढ़ें……सपा और निषाद पार्टी के बीच गठबंधन लगभग तय, कल 11 बजे अखिलेश यादव प्रेस कॉन्फ्रेंस में कर सकते हैं ऐलान

भाजपा में फिर से शामिल हुए नेता ने कहा, ‘‘यह मेरे लिए घर वापसी की तरह है। मैं कंधमाल लोकसभा सीट से चुनाव लड़ूंगा।’’ भाजपा ने विधानसभा चुनावों के लिए दिनेश जैन को झारसुगुडा, देवेंद्र महापात्र को राइराखोल, बदरी नाराण धल को भंडारीपोखरी, डॉ. प्रदीप नाइक को भद्रक, देव नारायण प्रधान को फूलबनी और सम्पद स्वाइन को पारादीप से टिकट देने की घोषणा की।

यह भी पढ़ें…..बीजेपी में शामिल हुईं जयाप्रदा, सपा के इस बड़े नेता को देंगी चुनौती

अब तक भाजपा ओड़िशा की 21 लोकसभा सीटों में से 17 और 147 विधानसभा क्षेत्रों में से 130 सीटों के लिये उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर चुकी है।

(भाषा)