जैसे जैसे ‘गालियों की डोज़’ बढ़ रही, वैसे वैसे जनता के ‘प्यार की डोज़’ भी बढ़ रही: मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बृहस्पतिवार को कहा कि विरोधियों की ‘गाली की डोज़’ जैसे जैसे बढ़ रही है, वैसे वैसे जनता के ‘प्यार और विश्वास की डोज़’ भी बढ़ रही है। मोदी ने यहां एक चुनावी जनसभा में कहा, ‘जैसे-जैसे विरोधियों द्वारा गालियों की डोज़ बढ़ाई जा रही है, वैसे-वैसे जनता मुझ पर अपने प्यार और विश्वास की डोज़ भी बढ़ाती जा रही है।’

मिर्जापुर: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बृहस्पतिवार को कहा कि विरोधियों की ‘गाली की डोज़’ जैसे जैसे बढ़ रही है, वैसे वैसे जनता के ‘प्यार और विश्वास की डोज़’ भी बढ़ रही है। मोदी ने यहां एक चुनावी जनसभा में कहा, ‘जैसे-जैसे विरोधियों द्वारा गालियों की डोज़ बढ़ाई जा रही है, वैसे-वैसे जनता मुझ पर अपने प्यार और विश्वास की डोज़ भी बढ़ाती जा रही है।’

उन्होंने कहा, ‘मुझे वे महामिलावटी गाली दे रहे हैं, जिन्होंने उत्तर प्रदेश को, मिर्जापुर को बारी-बारी से लूटा था, जिन्होंने मिर्जापुर को नक्सली हिंसा की आग में ढकेल दिया था, जिन्होंने उत्तर प्रदेश की खदानों को लूट कर अपनी तिजोरियां भर ली थीं।’

यह भी पढ़ें…पिछले चार वर्षों की तरह विश्व कप में भी रोहित, धवन, कोहली पर ही होगा दारोमदार

मोदी ने कहा, ‘कुछ दिन पहले बुआ के बबुआ यहां आए थे तो उन्होंने कहा था कि भाजपा वालों की बात शौचालय से शुरू होती है और वहीं खत्म होती है। ऐसी बात वही कर सकता है जिसके लिए मां-बहन-बेटियों की गरिमा, सुरक्षा और स्वास्थ्य का जरा सा भी महत्व न हो। हमारे लिए शौचालय, मां-बहन-बेटियों का इज्जत घर है।’

उन्होंने कहा कि बुआ :बसपा सुप्रीमो मायावती: हो या बबुआ :सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव: या फिर कांग्रेस के नामदार हों, उत्तर प्रदेश की समझदार जनता को ये लोग सिर्फ जाति में बांटकर देखते हैं। मोदी बोले, ‘उन्हें लगता है कि मतदाता उनकी जागीर है। वो जब चाहेंगे, अपनी जागीर एक दूसरे को दे देंगे।’

यह भी पढ़ें…राष्ट्रीय डेंगू दिवस पर निकाली जागरूकता रैली, IAS सुरेश चंद्रा ने झंडी दिखाकर किया रवाना

उन्होंने कहा, ‘ये लोग अपनी कुर्सी के सौदे में मतदाता को ही नहीं, अपने कार्यकर्ताओं को भी भूल जाते हैं।’

भाषा