बाबा केदारनाथ की शरण में PM मोदी, 12250 फीट की ऊंचाई पर गुफा में किया ध्यान

लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के प्रचार खत्म होने और मतदान से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तराखंड के केदारनाथ धाम में भगवान भोले नाथ का आशीर्वाद लेने पहुंचे हैं। पीएम दर्शन करने बाद रुद्राभिषेक और पूजा अर्चना करेंगे।

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के प्रचार खत्म होने और मतदान से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तराखंड के केदारनाथ धाम में भगवान भोले नाथ का आशीर्वाद लेने पहुंचे। शनिवार को सुबह करीब 9:30 बजे वह केदारनाथ धाम पहुंचे और फिर मंदिर में पूजा अर्चना के साथ भगवान शिव का रुद्राभिषेक किया।

इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बारिश के बीच पैदल चलकर दोपहर दो बजकर 45 मिनट पर ध्यान गुफा पहुंचे। जहां वह भगवा वस्त्र धारण कर ध्यान में लीन हो गए। भारतवर्ष की सुख-समृद्धि के लिए साधना के लिए वह ध्यान साधना कर रहे हैं।

मंदिर से लगभग 1.5 किमी दूर एक पहाड़ी पर स्थित यह गुफा पांच मीटर लंबी और तीन मीटर चौड़ी है। साढ़े आठ लाख रुपये की लागत से इसे तैयार किया गया है।केदारनाथ धाम की ऊंचाई समुद्र तल से 11700 फीट है। जबकि मंदिर परिसर से डेढ़ किमी दूर बनी ध्यान गुफा की ऊंचाई करीब 12250 फीट है। पीएम मोदी की बीते 5 सालों में केदारनाथ धाम की यह चौथी यात्रा है।

पीएम नरेंद्र मोदी यहां दो दिवसीय यात्रा पर पहुंचे हैं। पीएम नरेंद्र मोदी परंपरागत गढ़वाली पोशाक और पहाड़ी टोपी में बाबा केदार के धाम पहुंचे हैं, उनके हाथों में छड़ी भी थी। इसके अलावा कमर में उन्होंने भगवा गमछा बांधा हुआ है। केदारनाथ में रात्रि विश्राम के बाद मोदी रविवार को बदरीनाथ पहुंचेंगे। दर्शन करने के बाद पीएम मोदी रविवार को ही नई दिल्ली लौट जाएंगे।

प्रधानमंत्री की यात्रा को देखते हुए दोनों तीर्थ स्थलों पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। इस महीने की शुरुआत में ही केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के कपाट सर्दियों में बंद होने के बाद आम लोगों के दर्शन के लिए खुले हैं।

यह भी पढ़ें…चुनाव बाद BJP के साथ नहीं जाएंगे मायावती और अखिलेश : राहुल गांधी

बता दें कि 80 अस्सी के दशक में उन्होंने डेढ़ माह तक केदारपुरी में मंदाकिनी नदी के बाईं ओर स्थित गरुड़ चट्टी में समय व्यतीत किया था। केदारनाथ धाम के प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगाध आस्था है। साल 2013 की आपदा में गरुड़ चट्टी के अलग थलग पड़ जाने से अब एक बार इसे फिर से बसाया गया है।

2017 में कपाट खुलने के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रथम भक्त के तौर पर बाबा केदार के दर्शन कर रुद्राभिषेक किया था। यह पहला मौका था, जब देश के किसी प्रधानमंत्री ने केदारनाथ के कपाट खुलने पर धाम पहुंचकर यहां दर्शन किए।

यह भी पढ़ें…गर्लफ्रेंड के शौक पूरे करने के लिए चोरी करते थे ये ग्रेजुएट, ऐसे चढ़े पुलिस के हत्थे