प्रसपा के उम्मीदवार ने किया 22 लाख वोटों से जीतने का दावा, जिले में हैं मात्र 20 लाख वोटर

उनका कहना है कि अगर देश की जनता का दर्द जानना है तो पीएम मोदी देश की सरहद पर जाए। और वहां पर तैनात उन सैनिकों से बात करे उनके दर्द को जाने तब उन्हे पता चलेगा कि आखिर दर्द क्या होता है। देश मे ऐसे नेता है जो पार्लियामेंट मे बैठे है। जबकि उनको देश मे रहने का अधिकार नही है।

शाहजहांपुर: प्रगतिशील समाजवादी पार्टी ने यूपी के शाहजहांपुर में लोकसभा सीट से पूर्व सैनिक को प्रत्याशी बनाया है। लेकिन इस प्रत्याशी को ये नही पता कि इस जिले मे कितने वोट है। क्योंकि प्रत्याशी खुद 20 से 22 लाख वोटों से जीत की बात कर रहा है। जबकि इस जिले मे 20 लाख ही वोट है।

बीजेपी नेता पीएम मोदी को सेना का चौकीदार बता रहे हैं

हालांकि इस पूर्व सैनिक प्रत्याशी ने देश पीएम से लेकर पार्लियामेंट मे बैठने वाले बङे बङे नेताओं को कटघरे मे खङा कर दिया है। उनका कहना है कि सरहदों मे खङे होकर सैनिक देश की रक्षा करते है। लेकिन देश के बीजेपी नेता पीएम मोदी को सेना का चौकीदार बता रहे हैं।

ये भी पढ़ें— लोकसभा टिकट में देरी के चलते सुमित्रा महाजन का बड़ा फैसला, नहीं लड़ेंगी चुनाव

दरअसल प्रगतिशील समाजवादी पार्टी ने यूपी के शाहजहांपुर में सुरक्षित लोकसभा सीट से पूर्व सैनिक नरवीर सिंह कठेरिया को प्रत्याशी बनाया है। उनका 6 अप्रैल को नामांकन होना है। ऐसे मे उन्होने आज एक होटल मे प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मीडिया से बात करके पीएम मोदी पर जमकर हमला बोला।

पूर्व सैनिक प्रत्याशी ने बताया कि पीएम मोदी ने देश की जनता को ठगा है। वह देश का चौकीदार कहलाते है। लेकिन देश का चौकीदार कौन है ये उन्हे समझना चहिए। देश की सरहद पर शहीद होने वाले उन सैनिकों के परिवार से पूछो की देश का चौकीदार कौन है। देश का चौकीदार सैनिक है।

ये भी पढ़ें— लोकसभा चुनाव: शिवपाल की पार्टी ‘प्रसपा’ ने जारी किया घोषणापत्र

शहीद सैनिक के परिवार ने चुनाव बहिष्कार की धमकी दी

उन्होंने यहां तक कहा कि एक शहीद सैनिक के परिवार ने चुनाव बहिष्कार की धमकी दी है। उसको पीएम मोदी की सरकार मे सम्मान नही मिला है। ऐसे मे हम उन शहीद फौजियों को सम्मान देने के लिए ही जनता के बीच आए है।

उनका कहना है कि अगर देश की जनता का दर्द जानना है तो पीएम मोदी देश की सरहद पर जाए। और वहां पर तैनात उन सैनिकों से बात करे उनके दर्द को जाने तब उन्हे पता चलेगा कि आखिर दर्द क्या होता है। देश मे ऐसे नेता है जो पार्लियामेंट मे बैठे है। जबकि उनको देश मे रहने का अधिकार नही है।

ये भी पढ़ें— समाजवादी पेंशन योजना: महिलाओं को तीन हजार रुपये प्रतिमाह देने का वादा

हालांकि जब पूर्व सैनिक प्रत्याशी से कितनी बड़ी जीत का सवाल पूछा तो वह बहक गए। जनपद शाहजहांपुर मे करीब 20 लाख वोट है। लेकिन उन्होंने अपनी जीत का दावा कर दिया कि वह 20 से 22 लाख वोट से जीतेंगे। उसके बाद पास मे बैठे जिलाध्यक्ष अग्निवेश गुप्ता ने उनकी गलती का अहसास कराया। हालांकि जीत दावा काफी चर्चा का विषय बना रहा।