अमेठी: नामांकन के बाद बोलीं सोनिया – अजेय नहीं हैं मोदी, 2004 के नतीजे याद रखें

यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी आज अपनी पारंपरिक लोकसभा सीट रायबरेली से नामांकन किया। पर्चा दाखिल करने के वक्त राहुल, प्रियंका और रॉबर्ट वाड्रा उनके साथ रहे।

Published by SK Gautam Published: April 11, 2019 | 10:32 am
Modified: April 11, 2019 | 3:02 pm

रायबरेली: लोकसभा चुनाव 2019 की पहली परीक्षा आज हो रही है। देश के 20 राज्यों की कुल 91 सीटों पर आज मतदान हो रहा है। एक तरफ मतदान की प्रक्रिया चल रही है तो दूसरी ओर अन्य चरणों के लिए प्रचार जारी है। यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी आज अपनी पारंपरिक लोकसभा सीट रायबरेली से नामांकन किया। पर्चा दाखिल करने के वक्त राहुल, प्रियंका और रॉबर्ट वाड्रा उनके साथ रहे।

इससे पूर्व उन्होंने अपने राजनीतिक गुरु के यहां हवन पूजन किया और बाद में वहां से रोड़ शो करते हुए कलेक्ट्रेट के लिए निकली। उनके साथ बाहर भारी संख्या में समर्थक मौजूद रहे। वे लगातार नारेबाजी कर रहे थे।

नामांकन के बाद सोनिया गांधी ने कहा- 2004 नहीं भूलना चाहिए। राहुल गांधी ने कहा कि कोई भी अपराजेय नहीं है, इसका परिणाम 23 मई को आ जाएगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आंखों में आंखे डाल कर मुझसे डिबेट करे। मैने कुछ गलत नहीं किया।  पीएम चाहे जो कार्यवाही करें।

ये भी देखें: लोकसभा चुनाव: मतदाताओं को वोट डालने के लिए प्रेरित करने के लिए गूगल ने बनाया डूडल

सोनिया गांधी के नामांकन के मद्देनजर यहां भारी पुलिस बल की तैनाती की गई थी। हवन पूजन का आयोजन करने वाले कल्यान सिंह गांधी की मानें तो हवन पूजन की यह परंपरा 1967 से चली रही है, और सोनिया गांधी पांचवी बार फिर अपने चुनाव अभियान की शुरुआत यही से कर रही है। कांग्रेसी नेता, बीजेपी उम्मीदवार दिनेश सिंह को कड़ी चुनौती नहीं मान रहे हैं । उनका कहना है कि उनका इतिहास पार्टी छोड़ने का रहा है इस बार उन्होंने कांग्रेस  को छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए हैं। लोग उनके बारे में सबकुछ जानते है। इसका परिणाम सबके सामने 23 मई को आएगा।

स्मृति ईरानी भी अमेठी लोकसभा सीट से अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगी

वहीं दूसरी तरफ आज  केंद्रीय मंत्री और भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी भी अमेठी लोकसभा सीट से अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगी । और इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मौजूद रहेंगे। नामांकन पत्र सौंपने के अवसर पर वीवीआईपी लोगों की उपस्थिति को देखते हुए जिला प्रशासन ने सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए हैं।

ये भी देखे: नागपुर में भागवत, जोशी सबसे पहले मतदान करने वालों में शामिल

स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि राहुल नामांकन भरने आए तो यहां के लोगों से नहीं मिले, पीठ दिखाकर वापस चले गए। वह यहां से जीतने के बाद वायनाड (पर्चा दाखिल करने) चले गए जबकि ”मैं हारने के बाद भी अमेठी के लोगों की सेवा कर रही हूं।”